Sudhir Mungantiwar

    मुंबई. पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह (Former Police Commissioner Parambir Singh) के लेटर बम (Letter Bomb) की आंच कम नहीं हो रही है। इसको लेकर भाजपा (BJP) नेता एवं पूर्व वित्त मंत्री सुधीर मुनगंटीवार (Sudhir Mungantiwar) ने राज्यपाल (Governor) से मांग की है कि वे राज्य की परिस्थितियों से राष्ट्रपति (President) को अवगत कराएं। उन्होंने यह भी कहा कि हम राज्य में राष्ट्रपति शासन की मांग नहीं कर रहे हैं। लेकिन राज्य की वस्तुस्थिति से राष्टपति को अवगत कराना जरुरी है। उन्होंने यह भी कहा है कि वे इस संदर्भ में राज्यपाल भगतसिंह कोश्यारी (Governor Bhagat Singh Koshyari) से मुलाकात भी करेंगे। 

    भाजपा मुख्यालय में आयोजित पत्रकार परिषद में मुनगंटीवार ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से राज्य में जो कुछ भी घटनाएं हो रही हैं, उससे महाराष्ट्र की बदनामी हो रही है। उन्होंने कहा कि पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल के नेतृत्व में हम जल्द ही राज्यपाल भगतसिंह कोश्यारी से समय लेकर उनसे मुलाकात करेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि राज्य में महाविकास आघाड़ी सरकार का गठन बेईमानी से किया गया है।

    परमबीर सिंह ने CM को भी लिखा है पत्र

    मुनगंटीवार  ने कहा कि वर्ष 2019 के चुनाव में राज्य की जनता ने भाजपा -शिवसेना युति को बहुमत दिया था। लेकिन बेईमानी की वजह से राज्य में महाविकास आघाड़ी की सरकार गठित हुई है।  यह सरकार जनता का उपहास उड़ा रही है। उन्होंने कहा कि पूर्व पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह के पत्र की सच्चाई राज्यपाल की तरफ से राष्ट्रपति को दी जानी चाहिए। परमबीर सिंह ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के साथ ही राज्यपाल को भी पत्र लिखा है। यह बहुत ही गंभीर मामला है। शपथ लेने वाले मंत्री जब इस तरह का कृत्य करेंगे तो किस पर भरोसा किया जाएगा।