ग्रामीण क्षेत्रों में 8 करोड़ से अधिक लोगों का सर्वे

  •  ‘मेरा परिवार, मेरी जिम्मेदारी’ मुहिम आम लोगों का : मुख्यमंत्री

मुंबई. मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा है कि लोगों को यह बताने का प्रयास किया जाय कि ‘मेरा परिवार, मेरी जिम्मेदारी’ मुहिम केवल सरकार की नहीं, बल्कि आम नागरिकों की है. अपने परिवार को सुरक्षित रखने की दृष्टि से जनजागृति करने की जरुरत है. मुख्यमंत्री मंगलवार को जिला परिषद के माध्यम से क्रियान्वित की जा रही मुहिम की समीक्षा के दौरान अधिकारियों को संबोधित कर रहे थे.

34 जिलों में 24 लाख घरों में दस्तक दे चुकी है मुहिम में शामिल टीम

ग्रामविकास विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव अरविंद कुमार ने बताया कि राज्य के 34 जिलों के  ग्रामीण क्षेत्र में मुहिम के तहत लगभग 8 करोड़ से अधिक लोगों का सर्वे करने का  काम पूरा हो गया है. मुहिम के लिए तैयार की गई विभिन्न जिलों की अलग-अलग टीमों ने 24 लाख परिवारों से मुलाकात की है. जिला परिषदों ने 1 करोड़ 84 लाख परिवारों से मुलाकात करने का लक्ष्य निर्धारित किया है. 24 लाख घरों में दस्तक दी गई है, इस हिसाब से 13 प्रतिशत लक्ष्य पूरा किया जा चुका है.

 पुणे, नाशिक, कोल्हापुर में सबसे अधिक कोरोना के मरीज मिले 

सर्वे के दौरान सारी और आईएलआई के 15  हजार 392 मरीज और कोरोना के 6 हजार 938 मरीज मिले हैं. 2 लाख 6 हजार 211 अलग-अलग बीमारियों के मरीजों की पहचान की गई है. पुणे, नाशिक, कोल्हापुर में सबसे अधिक कोरोना के मरीज मिले हैं. इस अवसर पर मुख्यमंत्री के प्रधान सलाहकार अजोय मेहता ने अधिकारियों का मार्गदर्शन किया. बैठक में मुख्यमंत्री के अतिरिक्त मुख्य सचिव आशीष कुमार सिंह, प्रधान सचिव विकास खारगे, स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव डॉ प्रदीप व्यास मौजूद थे.