Tender prepared to give contract to Manmafik, BJP accuses BMC

    मुंबई. गोरेगांव-मुलुंड लिंक रोड परियोजना (Goregaon-Mulund Link Road Project) के तहत टनल (Tunnel) खोदने का काम मनमाफिक ठेकेदार (Contractor) को देने के प्रयास का आरोप भाजपा (BJP) ने बीएमसी (BMC) पर लगाया है। इस संदर्भ में पार्टी प्रवक्ता एवं नगरसेवक भालचंद्र शिरसाट (Bhalchandra Shirsat) ने मनपा कमिश्नर सहित अन्य संबंधित को पत्र लिखा है।

    बीएमसी ने पूर्व एवं पश्चिम उपनगरों को जोड़ने एवं यातायात व्यवस्था को सुदृढ़ करने के लिए  गोरेगांव-मुलुंड लिंक रोड परियोजना तैयार की है। जिसका काम शुरु है। इस परियोजना के तहत संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान के जंगल के नीचे 14  मीटर व्यास का टनल खोदने एवं 13 मीटर व्यास का टनल के अंदर सड़क निर्माण किया जाना है। इसको लेकर निविदा प्रक्रिया शुरु है।

    निविदा में दी गई शर्तों को लेकर संदेह

    भाजपा ने निविदा में दी गई शर्तों को लेकर संदेह जताया है। बीएमसी कमिश्नर इकबाल सिंह चहल को लिखे पत्र में स्थायी समिति के सदस्य भालचंद्र शिरसाट ने कहा है कि निविदा शर्त में इस बात का उल्लेख है कि निविदाकार के पास भारतीय शहरी क्षेत्र में टनल खोदने का अनुभव अनिवार्य है, जबकि देखा जाय तो टनल जंगल के बीच से जा रहा है। जिसकी वजह से यह सवाल आवश्यक है कि शहरी क्षेत्र में टनल खोदने का पूर्व अनुभव क्यों और किसके लिए मांगा जा रहा है। 

    बीएमसी ने ग्लोबल टेंडर आमंत्रित किया 

    भाजपा प्रवक्ता ने कहा है कि बीएमसी ने ग्लोबल टेंडर आमंत्रित किया है उसके बावजूद केवल भारत के शहरी भाग में टनल खोदने का अनुभव क्यों मांगा गया है। दूसरी बात यह जंगल के नीचे से जा रहा है। शिरसाट ने आशंका जताई है कि यह विशेष ठेकेदार को फायदा पहुंचाने के लिए किया गया है। उन्होंने कहा कि इस संदर्भ में हमने दो माह पहले भी पत्र लिखा था, लेकिन उसका जवाब भी नहीं मिला है।