…तो मुंबई में लग सकता है नाइट कर्फ्यू !

  • नाइट क्लबों पर बिफरे मनपा आयुक्त
  • सरकार को भी लिखा पत्र

मुंबई. बांद्रा एवं लोअर परेल के नाइट क्लबों (Night clubs) में छापे मारी के बाद मनपा आयुक्त इकबाल सिंह चहल ने कड़ा रुख अख्तियार  किया है। उन्होंने कहा है कि यदि नाइट क्‍लबों में दिशा निर्देशों का पालन नहीं किया जाएगा तो मुंबई में नाइट कर्फ्यू (Night curfew) लगाने पर मजबूर होना पड़ेगा। मनपा आयुक्त ने इस संदर्भ में राज्य सरकार को भी पत्र लिखा है।  

मुंबई के नाइट क्लबों में भारी भीड़ जमा हो रही है, सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) की धज्जियां उड़ रही हैं, लोग मास्क भी नहीं लगाते हैं। मनपा आयुक्त चहल ने लोअर परेल स्थित एपीटोम नामक  नाइट क्लब और बांद्रा के एक क्लब का हवाला देते हुए कहा है कि दोनों स्थानों पर तड़के 4 बजे छापे की कार्रवाई की गयी। जहां दो हजार से अधिक लोग बगैर मास्क लगाए मौज  मस्ती करते पाए गए थे। 

मनपा अधिकारियों ने छापा मारकर मास्क  न पहने लोगों  के खिलाफ स्थानीय पुलिस में मामला दर्ज कराया था। लोअर परेल के क्लब में कार्रवाई के दौरान मनपा उपायुक्त विजय बालमवार सहायक आयुक्त शरद उघडे, अनिल धुरी, रोहन कुमावत, विवेक आठवले सहित अन्य  अधिकारी मौजूद थे।  इसी तरह की कार्रवाई बांद्रा में भी की गयी थी। 

मनपा आयुक्त इकबाल सिंह चहल (Iqbal Singh Chahal) ने कहा की दुनियां के कई देशों में कोरोना की दूसरी लहर शुरु है। अगर ध्यान नहीं दिया गया तो यहां भी कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ सकती है। कोरोना की दूसरी लहर की आशंकाओं को खारिज नहीं किया जा सकता है। कोरोना  की रोकथाम को लेकर तैयार किए गए दिशा निर्देशों का पालन करने के शर्त पर ही मुंबई के नाइट क्लबों को शुरु करने की इजाजत दी गयी है।लेकिन नाइट क्लब कई बार दिशा निर्देशों का उल्लंघन करते पाए गए हैं।