There are 21 isolation coaches ready at Palghar station

    मुंबई. कोरोना संक्रमितों के लिए पश्चिम रेलवे (Western Railway) के माध्यम से महाराष्ट्र (Maharashtra), गुजरात (Gujarat) एवं मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में आइसोलेशन कोच (Isolation Coach) उपलब्ध कराए जा रहे हैं। महाराष्ट्र के पालघर, नंदुरबार, गुजरात में साबरमती और चांदलोडिया स्टेशनों और मध्य प्रदेश में इंदौर के पास टीही स्टेशन पर राज्य सरकार की मांग पर आइसोलेशन कोच उपलब्ध कराये गए हैं। सीपीआरओ सुमित ठाकुर के अनुसार, पश्चिम रेलवे द्वारा कुल 386 आइसोलेशन कोच तैयार किये गये हैं, जिनमें  मुंबई मंडल में 128 आइसोलेशन कोच उपलब्ध हैं। जिला प्रशासन के अनुरोध पर 21 कोच का एक रेक मुंबई  के पास पालघर में रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म क्रमांक 3 पर रखा गया है। जिला प्रशासन के अधिकारियों ने 3 इन कोचों का जायजा लिया गया। इसके पहले 18 अप्रैल से नंदुरबार रेलवे स्टेशन पर कोरोना मरीजों के उपचार के लिए 21 आइसोलेशन कोच उपलब्ध कराए जा चुके हैं। 

    4 मई तक नंदुरबार में कुल 97 मरीजों को भर्ती किया गया जिसमें से 66 को डिस्चार्ज किया गया और वर्तमान में इन कोचों में 31 मरीज भर्ती हैं। रतलाम मंडल के अंतर्गत मध्य प्रदेश के इंदौर के निकट भी 30 अप्रैल से टीही रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म क्रमांक 1 पर 20 आइसोलेशन कोच उपलब्ध कराए गए हैं। 4 मई को टीही में इन कोचों में 15 मरीज भर्ती थे। इसके अतिरिक्त 3 मई को अहमदाबाद क्षेत्र में 19 आइसोलेशन कोच उपलब्ध कराये गए हैं, इनमें से 13 कोच साबरमती स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर 5 पर तथा 6 कोच चांदलोडिया में प्लेटफार्म नंबर 2 पर रखे गए हैं।

    पालघर में 378 मरीजों की व्यवस्था     

    पालघर में बने 21  आइसोलेशन कोच  के रेक में 378 मरीजों को भर्ती करने की व्यवस्था है। प्रत्येक कोच में 2 ऑक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध है। कोच के दोनों ओर खिड़कियों को मच्छर जाली से कवर किया गया है। प्रत्येक मरीज के लिए बेडरोल एवं डस्टबिन उपलब्ध कराये गए है। प्रत्येक कोच में एक बाथ रूम तथा तीन शौचालय उपलब्ध हैं। सभी कोचों में पानी और बिजली की सुविधा दी गई है। गर्मी को देखते हुए कोच के अंदर के तापमान को कम करने के लिए कोच की छत को जूट के कपड़े से कवर किया गया है और कूलर भी लगाए गए हैं। कोविड मरीजों की देखभाल करने वाले डॉक्टरों एवं मेडिकल स्टाफ के लिए अलग व्यवस्था है।  रेल मंत्रालय के निर्देश पर रेलवे ने देश के विभिन्न स्थानों पर लगभग 4000 कोविड देखभाल कोच को उपलब्ध कराया है जिनकी कुल क्षमता लगभग 64000 बिस्तरों की है। इन आइसोलेशन कोचों को आसानी से स्थानांतरित किया जा सकता है।  राज्य सरकारों को उनकी मांग के अनुसार आइसोलेशन कोच उपलब्ध कराये जा रहे हैं।