टाइगर अभी जिन्दा है!, पाटिल का देवेन्द्र पर निशाना

मुंबई. बीजेपी छोड़ कर एनसीपी में शामिल होने वाले एकनाथ खड़से के वेलकम कार्यक्रम में प्रदेश एनसीपी अध्यक्ष जयंत पाटिल ने नेता विपक्ष देवेन्द्र फडणवीस के ऊपर जम कर निशाना साधा. उन्होंने देवेन्द्र का नाम लिए बिना कहा कि अभी टाइगर जिन्दा है, पिक्चर बाकी है. उनका इशारा एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार की ओर था. 

पाटिल ने अपने इस बयान से जता दिया है कि देवेन्द्र भले ही अपने आप को राजनीति का तीस मार खां समझ रहे हों, लेकिन असली टाइगर शरद पवार हैं. 

कटप्पा ने बाहुबली को क्यों मारा!

पाटिल ने खड़से को बीजेपी छोड़ने के लिए विवश करने को लेकर भी देवेन्द्र पर तंज कसा. पाटिल ने कहा कि लोग जानना चाहते हैं कि आखिर कटप्पा ने  बाहुबली को क्यों मारा. खड़से ने आरोप लगाया है कि देवेन्द्र की वजह से उन्हें बीजेपी छोड़ने का फैसला करना पड़ा है.

खड़से की बेटी भी एनसीपी में हुईं शामिल 

खड़से के साथ उनकी बेटी रोहिणी खड़से भी एनसीपी में शामिल हुईं हैं. पिछले विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने खड़से का टिकट काटने के बाद उनकी बेटी रोहिणी को जलगांव जिले के मुक्ताईनगर विधानसभा क्षेत्र से उम्मीदवार बनाया था, लेकिन वे शिवसेना के बागी उम्मीदवार चंद्रकांत पाटिल के खिलाफ चुनाव हार गई थीं. हालांकि खड़से की बहू रक्षा खड़से ने बीजेपी में बने रहना का फैसला किया है. रक्षा रावेर से लोकसभा सांसद हैं.