सीएसएमटी सहित कई स्टेशनों पर वसूला जाएगा ‘यूजर चार्ज’

  • यात्रियों को करनी पड़ेगी जेब ढ़ीली 
  • रेलवे बोर्ड ने दिए संकेत 

मुंबई. रेलवे में यात्री सेवाओं को लेकर तेजी से हो रहे सुधार के बीच अब यात्रियों को भी अपनी जेब ढ़ीली करनी पड़ेगी. एयरपोर्ट की तर्ज पर अब मुंबई सहित देश में रेलवे के बड़े स्टेशनों पर यात्रियों से ‘यूजर चार्ज’ वसूला जाएगा. ऐसा संकेत रेलवे बोर्ड ने दिया है. 

रेल मंत्रालय के सूत्रों के अनुसार यूजर चार्ज न सिर्फ देश के बड़े स्टेशनों पर वसूला जाएगा, बल्कि मुंबई के सीएसएमटी, दादर, एलटीटी, ठाणे, कल्याण, पनवेल, पुणे सहित राज्य के कई स्टेशनों पर यात्रियों को यूजर चार्ज देना होगा. पता चला है कि देश के लगभग एक हजार स्टेशनों पर ‘यूजर चार्ज’वसूला जाएगा. 

यात्रियों पर अतिरिक्त भार पड़ेगा

रेलवे बोर्ड के सीईओ और अध्यक्ष वी.के यादव के अनुसार देश के लगभग 15 प्रतिशत बड़े स्टेशनों पर यूजर चार्ज वसूला जा सकता है.इसके लिए स्टेशनों को ए-वन,ए आदि श्रेणियों में विभाजित किया जाएगा. मुंबई के अधिकांश बड़े उपनगरीय स्टेशन ए श्रेणी में आते हैं. इन स्टेशनों पर यात्रियों की बड़ी संख्या को देखते हुए रेलवे यूजर चार्ज के जरिये अतिरिक्त आय का लक्ष्य बना रही है. देश में ए-वन श्रेणी के 75 स्टेशन हैं,जिनमें मुंबई के सीएसएमटी, दादर, एलटीटी, ठाणे, कल्याण, पनवेल, पुणे, नागपुर सहित मध्य और पश्चिम रेलवे के कई बड़े स्टेशनों का समावेश है. मुंबई के उपनगरीय स्टेशनों पर यात्रियों से ‘यूजर चार्ज’ वसूले जाने की योजना से यात्रियों पर अतिरिक्त भार पड़ेगा.हाल ही में सीएसएमटी स्टेशन को पीपीपी के आधार पर विकसित किए जाने की घोषणा की गई है.