महानगरपालिका  को दान में मिल रही है वैक्सीन गोदरेज, सीटी बैंक और सिप्ला ने की पहल

    मुंबई. केंद्र से पर्याप्त स्टॉक (Enough Stock) न मिलने के कारण महानगरपालिका (Municipal Corporation) वैक्सीन (Vaccine) की कमी से जूझ रही है, लेकिन कुछ कंपनियों ने दरिया दिली दिखाते हुए महानगरपालिका  और मुंबईकरों (Mumbaikars) के लिए वैक्सीन दान कर अपना समर्थन दिया है। अबतक महानगरपालिका  को 2 लाख डोज (Doses) दान में मिल चुके हैं। 

    आए दिन वैक्सीन की कमी को लेकर महानगरपालिका और मुंबईकर दोनो ही परेशान रहते हैं। वैक्सीन न मिलने के कारण केंद्रों पर आए दिन नोकझोक भी होती है, तो कई लोगों को बिना वैक्सीन लिए ही निराश लौटना पड़ता है। इन सभी समस्याओं के बीच कुछ कंपनियों ने कॉर्पोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी (सीएसआर) के तहत महानगरपालिका को वैक्सीन डोनेट कर मदद का हाथ बढ़ाया है। 

    महानगरपालिका  की कार्यकारी स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मंगला गोमारे ने बताया कि सीएसआर के जरिए कुछ कंपनियों ने महानगरपालिका को वैक्सीन डोनेट किया है तो कुछ ने डोनेशन की इच्छा जाहिर की है। वर्तमान में हमें गोदरेज कंपनी और सीटी बैंक ने वैक्सीन डोनेट किया है। आनेवाले दिनों सिप्ला ने भी 50000 डोज देने की बात कही है। इसके अलावा कई छोटे बड़े संस्था है जिन्होंने वैक्सीन डोनेट करने की इच्छा जताई है। यह एक अच्छी पहल है लोगों का टीकाकरण भी हो जाएगा और बीमारी के रोकथाम में कही न कहीं मदद भी मिलेगी। 

    गोदरेज और सीटी बैंक प्रत्येक ने दिया 1 लाख डोज

    महानगरपालिका  के स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि गोदरेज कंपनी ने अपनी ओर से एक लाख डोज डोनेट किया है। यानी गोदरेज के विक्रोली स्थित टीकाकरण केंद्र पर ही टीकाकरण होगा, लेकिन वहां महानगरपालिका  द्वारा ही लाभकर्ताओं को भेजा जाएगा। जहां उनका नि:शुल्क टीकाकरण किया जाएगा। कुछ का स्लॉट बुकिंग की माध्यम से तो कुछ का ऑन द स्पॉट रजिस्ट्रेशन के जरिए टीकाकरण किया जा रहा है। 

    सीटी बैंक ने चुना धारावी स्लम

    सीटी बैंक ने जसलोक अस्पताल के साथ मिलकर धारावी के स्लम में रह रहे निवासियों का टीकाकरण करने का कार्य शुरू किया है। महानगरपालिका  ने टीकाकरण के कैंप के लिए जसलोक को धारावी स्पोर्ट कॉम्पलेक्स में जगह दी है।  सीटी बैंक ने भी नि:शुल्क एक लाख डोज देने का निर्णय लिया है।

    कई मुंबईकरों को दिलाया वैक्सीन

    महानगरपालिका  के अलावा भी मेडिकल क्षेत्र में सामाजिक कार्य कर रहे और कई सामाजिक संस्थाओं से जुड़े हुए राजीव सिंगल ने अबतक सैंकडों मुंबईकरों का नि:शुल्क टीकाकरण करवाया है। उन्होंने कहा कि तीसरी लहर को रोकने या उसके प्रभाव को कम करने के लिए टीकाकरण बेहद जरूरी है। इसलिए सक्षम लोगों और संस्थाओं को मदद का हाथ बढ़ाना चाहिए।