husband posted private photos and videos on social media after dispute with wife, police arrested
File

  • खेरवाड़ी पुलिस की कार्रवाई
  • 9 बाइक और 2 आटो रिक्शा बरामद

मुंबई. कोरोना महामारी (Corona epidemic) को रोकने के लिए लगे लॉकडाउन (Lockdown) में वाहन चोरों की वारदात काफी बढ़ गयी है. शहर में आए दिन वाहन चोरी की वारदातें हो रही है. चोरों के लिए लॉकडाउन के कारण जगह-जगह पार्क वाहनों (Park vehicles) को चुराना आसान हो गया है. वाहन चोरों ने मुंबई पुलिस (Mumbai Police) की नींद उड़ा रखी है. लोगों के लाखों रुपए के वाहन (बाइक, ऑटो रिक्शा, कार और ट्रक) पलक झपकते ही गायब हो रहे हैं.

 खेरवाड़ी पुलिस (Kherwadi Police) ने ऐसे ही एक वाहन चोरी गिरोह का पर्दाफाश किया. इस मामले में 3 आरोपियों को गिरफ्तार (3 accused arrested) किया गया है. उनके पास से 9 बाइक और 2 आटो रिक्शा बरामद किया गया है.

सीसीटीवी से मिला वाहन चोरों का सुराग

खेरवाडी पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक दिनकर जाधव ने बताया कि लॉकडाउन में वाहन चोरी और मोबाइल और चेन लूट की लगातार शिकायतें मिल रही थी. पुलिस स्टेशनों के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षकों के साथ मीटिंग कर वाहन चोरों पर नकेल कसने के निर्देश दिए गए. परिमंडल-8 के पुलिस उपायुक्त मंजुनाथ शिंगे के मार्गदर्शन में खेरवाडी पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक दिनकर जाधव के मार्गदर्शन में सहायक पुलिस निरीक्षक सूर्यवंशी की टीम ने विभिन्न इलाके सीसीटीवी को खंगाला, तो एक संदिग्ध वाहन चोर का सुराग मिला. उसे ट्रैप लगाकर पकड़ा गया. उसकी निशानदेही पर 2 और आरोपी पुलिस की गिरफ्त में आए. उनकी पहचान साजिद मोहम्मद कयूम अंसारी (26) और अब्दुल सलीम खान (20) के रूप में हुई. उनसे पूछताछ में वाहन चोरी गिरोह का पर्दाफाश हुआ.

फर्जी कागज बनाकर बेच देते थे वाहन 

नाबालिग समेत तीनों आरोपियों के पास से चोरी के 9 बाइक और 2 आटो रिक्शा बरामद किया गया है. पुलिस को वाहन चोरी के एक दर्जन से अधिक मामले को सुलझाने में कामयाबी मिली है. आरोपी वाहन चोरी कर फर्जी कागज बना कर कम दामों में बेच देते थे. आरोपियों ने खेरवाडी के अलावा सायन, माटुंगा, चेंबूर, पंतनगर, घाटकोपर, कुर्ला और चुनाभट्टी पुलिस स्टेशन के अंतर्गत वाहन चोरी की वारदात को अंजाम दिया था.