‘विश्वास’ ने गरीब विद्यार्थियों को बांटे स्मार्टफोन

मुंबई. कैंसर मरीजों की सेवा में पिछले 25 साल से जुटी सेवाभावी संस्था ‘विश्वास’ ने एक कदम आगे बढ़ाते हुए अब लॉकडाउन में घर बैठे उन विद्यार्थियों की मदद करने का बीड़ा उठाया है जो सरकारी स्कूलों में पढ़ते हैं और निर्धनता के कारण स्मार्ट फोन खरीद पाने में असमर्थ हैं. वो बच्चे जिनके पिता या तो ऑटो चलाकर परिवार चला रहे हैं या फुटपाथ पर रेहड़ी लगाकर या सिक्योरिटी गार्ड का काम करते  हैं.

‘विश्वास’ संस्था ने वर्ष 2020 में दिसंबर तक ऐसे 500 बच्चों को ब्रांडेड कंपनी का स्मार्टफोन (Smartphones)  देने का संकल्प लिया है, जिसकी शुरुआत संस्था के अध्यक्ष और मारवाड़ी समाज के पुरोधा सुरेश अग्रवाल ने 45 जरूरतमंद बच्चों को स्मार्ट फोन उपहार में देकर की है.

अंधेरी (पूर्व) के जे.बी.नगर के ‘ गोयनका सभागृह ‘ में आयोजित कार्यक्रम में ‘विश्वास’ संस्था ने कई प्रमुख लोगों की मौजूदगी में इन बच्चों को मोबाइल फोन बांटे. जिन बच्चों को स्मार्ट फोन दिए गए, उनमें 6 वर्ष की उम्र से लेकर 20 वर्ष की उम्र तक के बच्चे शामिल हैं. ये सभी बेहद जरूरतमंद और गरीब परिवार से ताल्लुक रखते हैं. इस कार्यक्रम में टीवी की एक्ट्रेस हुनर अली, मुंबई पुलिस के एसीपी अविनाश धर्माधिकारी, एनडीटीवी के सीनियर जर्नलिस्ट सुनील सिंह सहित कई अतिथि बच्चों का मनोबल बढ़ाने के लिए उपस्थित थे.