Mayo Hospital

  • अब तक जिले में 82700 लोगों की जांच पूरी

नागपुर. कोरोना का प्रादुर्भाव दिनोंदिन बढ़ता ही जा रहा है. मरीजों के साथ ही मरने वालों का ग्राफ ऊपर चढ़ता जा रहा है. इस बीच शनिवार को मेडिकल और मेयो में भर्ती 13 मरीजों की मौत हो गई. इसके साथ ही अब तक जिले में मरने वालों की संख्या 139 हो गई है. इनमें 31 मरीज जिले से बाहर के थे. वहीं सिटी के 87 और ग्रामीण के 21 मरीजों का समावेश रहा है.

शनिवार को सिटी में कुल 270 नये मरीजों में कोरोना का संक्रमण पाया गया.  इसके साथ ही कुल संख्या 5662 हो गई है. एक ही दिन 3100 लोगों की जांच की गई. जबकि अब तक जिले में कुल 82700 लोगों की जांच की जा चुकी है. प्रशासन द्वारा जांच का दायरा बढ़ाए जाने का ही नतीजा है कि अधिकाधिक मरीजों की पहचान हो रही हैं. पहचान होने से मरीजों के इलाज में आसानी हो रही है. अब सिटी के अलावा ग्रामीण भागों में कोरोना ने रफ्तार पकड़ ली है.

शनिवार को जिन मरीजों की मौत हुई उनमें मेडिकल में वाठोडा रोड निवासी 50 वर्षीय महिला, मीनीमाता नगर निवासी 50 वर्षीय महिला, 47 वर्षीय लांजी बालाघाट मध्यप्रदेश निवासी महिला, 80 वर्षीय केलिबाग रोड महल निवासी, 90 वर्षीय सोमवारी नगर निवासी महिला और कामठी निवासी 70 वर्षीय महिला का समावेश रहा. इसी मेयो में 56 वर्षीय  नवापुरा महला निवासी, 75 वर्षीय धानावाडी निवासी, 70 वर्षीय लालगंज चकनाचौक निवासी, 50 वर्षीय यशोधरा नगर निवासी महिला, 50 वर्षीय पाचपावली जागनाथबुधवारी निवासी महिला, 43 वर्षीय वाठोडा निवासी, 74 वर्षीय जवाहर नगर कन्हान का समावेश है. 

143 को मिली छुट्टी
शनिवार को 143 मरीजों को छुट्टी दी गई. इनमें कुछ को कोविड सेंटरों में तो कुछ को घर भेजा गया है. इन सभी मरीजों में लक्षण कम दिखाई दे रहे थे. इस वजह से छुट्टी दी गई. लेकिन अगले कुछ दिनों तक होम क्वारंटाइन होने के साथ ही निगरानी में रहने के निर्देश दिये गये हैं. फिलहाल सिटी में कुल एक्टिव केस 1967 है. वहीं अब तक कुल 3556 लोगों को छुट्टी दे दी गई है.