arrest

  • क्राईम ब्रांच यूनिट क्रमांक 4 की कार्रवाई

नागपुर. क्राईम ब्रांच यूनिट क्रमांक 4 की सर्तकता के कारण सिटी में बड़ी घटना होने से टल गई. पुलिस ने घर में धारदार हथियारों का जखिरा छूपाकर रखने वाले 2 आरोपियों को रंगे हाथ गिरफ्तार किया. कार्रवाई में पुलिस ने आरोपियों के पास से तलवार चाकू समेत कुल 10 घातक जानलेवा हथियार बरामद किये है.

आरोपियों में प्लॉट नंबर 23 गजानन नगर, ओंकार नगर चौक, अजनी निवासी प्रतिक सुनिल फुलझेले (21) और प्लॉट नंबर 76, हावरापेठ निवासी कार्तीक अशोक शर्मा (25) शामिल है. क्राईम ब्रांच यूनिट क्रमांक 4 के सीनियर पीआई अशोक मेश्राम के मार्गदर्शन में पुलिस की टीम अवैध गतिविधियों को रोकने और अवैध रूप से हथियार रखने वालों को पकड़ने के लिए पेट्रोलिंग कर रही थी.

हत्या समेत 7 मामले पहले ही दर्ज

इस दौरान पुलिस को जानकारी मिली कि आरोपी प्रतिक और कार्तीक भारी मात्रा में धारदार हथियार जमा कर प्रतिक के घर छुपा रहे है. सूचना मिलते ही पुलिस ने आरोपी के घर छापेमारी कर उन्हें हथियार रखते हुए रंगे हाथ दबोचा.

पुलिस ने आरोपियों के पास से 2 तलवार, चाकू समेत कुल 10 धारदार हथियार जब्त किये. आरोपी कार्तीक के खिलाफ शहर के अनेक थानों में हत्या करने, लूटपाट, मारपीट, जुआ समेत कुल 7 आपराधिक मामले दर्ज है. इसके अलावा विजय मोहड़ हत्याकांड प्रकरण में कार्तीक का भाई रजत उर्फ लल्ला राजकुमार शर्मा जेल में सजा काट रहा है.

जेल जाने से 4 महीने पहले रजत ने कार्तीक को हथियार रखने के लिए दिये थे. ऐसा उसने अपने बयान में बताया. भारी मात्रा में हथियार जमा कर आरोपी कोई बड़ी आपराधिक घटना को अंजाम देने वाले थे. यह कहने से इंकार नहीं किया जा सकता,लेकिन पुलिस ने उनका यह प्लान सफल नहीं होने दिया. डीसीपी विवेक मासाल, एसीपी सुधीर नंदनवार के मार्गदर्शन में एपीआई के व्ही चौगले, एपीआई डीएम चंदन, रमेश उमाठे, हवलदार राजकुमार शर्मा, नितिन आकोटे, सचिन तूमसरे, आशिष क्षिरसागर, सतिश ठाकरे ने कार्रवाई को अंजाम दिया.