death

  • वाड़ी और अजनी की घटना

नागपुर. शराब के नशे में सिटी के अलग-अलग क्षेत्रों में 2 लोगों की मौत हो गई. वाड़ी थानांतर्गत हुई घटना में 20 वर्षीय एक युवक ने शराब के नशे में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. मृतक घर क्रमांक 1519, ताजले लेआउट वडधामना निवासी तुलेश्वर संतोष निसाद (20) बताया गया.

तुलेश्वर अपने पिता के साथ रहता था. कोई कामकाज नहीं होने के कारण वह सिर्फ पिता के पैसों पर शराब पीता रहता था. पिता ड्रायविंग का काम करता है. हर दिन की तरह शुक्रवार को भी वह सुबह ड्यूटी पर चले गया. शराब के नशे में उसने घर की छत के बल्ली से नायलोन की रस्सी बांधकर फांसी लगा ली.

शाम 5.30 बजे जब उसके पिता काम से घर लौटे तो आवाज देने के बाद भी बेटे ने दरवाजा नहीं खोला. खिड़की से देखने पर तुलेश्वर फांसी पर लटकते हुए दिखाई दिया. पड़ोसियों की मदद से दरवाजा तोड़कर पुलिस को घटना की जानकारी दी. अब तक आत्महत्या का कारण स्पष्ट नहीं हो पाया है. फरियादी संतोषकुमार हिरनाथ निसाद (45) की शिकायत पर पुलिस ने आकस्मिक मृत्यु का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी.

4 दिन बात चला पता

इसके अलावा अजनी थाना परिसर में भी 30 वर्षीय युवक की शराब के नशे में मौत हो गई. घटना का खुलासा तब हुआ जब परिसर को नागरिकों को शव के सड़ने की दुर्गंध आई. मृतक का नाम सचिन सियाराम शाहू (30) है और वह प्लॉट नंबर 24, सुयोग नगर का रहने वाला था. मृतक अपने पिता के घर में पहले माले पर रहता था. बाप बेटे की आपस में नहीं बनती थी. सचिन ड्रायविंग का काम करता था. उसे पहले से ही शराब पीने की लत थी. सुबह-शाम वह शराब के नशे में धुत रहता था. इस रवैय्ये से परिवार वाले भी उसका ध्यान नहीं रखते थे.

शु्क्रवार को शाम 7 बजे पड़ोसियों को तेज दुर्गंध आने लगी. उसके कमरे का दरवाजा खोलने पर उसे मृत अवस्था में देखा गया. जांच में पता चला कि उसकी मौत 4 दिन पहले ही हो चुकी थी. पुलिस ने उसके कमरे से भारी मात्रा में खाली शराब की बोतले बरामद की है. इसलिए पुलिस को संदेह है कि सचिन की मौत अधिक मात्रा में शराब का सेवन करने से हुई है. फरियादी सियाराम शंकरलाल शाहू की शिकायत पर पुलिस ने आकस्मिक मृत्यु का मामला दर्ज किया.