arrest
File Photo

नागपुर. महानगरपालिका के नाम पर वसूली कर रहे 2 फर्जी कर निरीक्षकों को पारडी पुलिस ने गिरफ्तार किया. व्यवसायी की सतर्कता से यह मामला सामने आया. पकड़े गए आरोपियों में रमाबाईनगर, उप्पलवाड़ी निवासी स्नेहल खोब्रागड़े (27) और यशोधरानगर निवासी गौरव राले (27) बताए गए. पुलिस ने धीरज अग्रवाल नामक व्यापारी की शिकायत पर मामला दर्ज किया है.

धीरज पारडी में सूरज दाल मिल चलाते हैं. शनिवार की दोपहर दोनों आरोपी उनके संस्थान में पहुंचे. पिछले वर्षों का संपत्ति कर बकाया होने की जानकारी दी. उन्होंने उन्हें कर भरने की जानकारी दी. तभी आरोपियों ने दिवाली की भेंट देने को कहा. अग्रवाल को उनके पहचानपत्र फर्जी होने का संदेह हुआ.

उन्होंने पुलिस को बुलाने की चेतावनी दी. दोनों आरोपी घबरा गए और माफी मांगने लगे. धीरज ने तुरंत पारडी पुलिस को जानकारी दी. पुलिस दल मौके पर पहुंचा और दोनों से पूछताछ शुरू की. जांच करने पर उनके पहचानपत्र फर्जी होने का पता चला. मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया.

रविवार को उन्हें न्यायालय में पेश किया गया. अदालत ने 8 दिसंबर तक पुलिस हिरासत में रखने के आदेश दिए हैं. पुलिस को तलाशी के दौरान स्नेहल के पास अनंथा टेक्नोलॉजी लिमिटेड हैदराबाद और गौरव के पास साइबर टेक सिस्टम एंड सोल्यूशन लिमिटेड कंपनी का पहचानपत्र भी मिला. पुलिस दोनों कम्पनियों से भी उनके बारे में जानकारी मांगने वाली है. जांच में और भी मामले उजागर हो सकते हैं.