arrested
File

नागपुर. करीब 2 माह पूर्व मेडिकल कालेज में भर्ती एक कैदी वार्ड में तैनात पुलिस की आंखों में धूल झोंककर फरार हुआ था. आखिरकार 2 महीने के बाद क्राइम ब्रांच को उसे अकोला से गिरफ्तार करने में सफलता मिली. उक्त कैदी का नाम ताजबाग निवासी मजीद अहमद उर्फ बंबइया अब्बास अली (29) बताया गया है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार आरोपी मजीद अहमद ने सक्करदरा थाने की सीमा में 1 युवक की हत्या की थी. गिरफ्तारी के बाद उसे सेंट्रल जेल भेज दिया गया था. अचानक तबियत खराब होने से गत 18 अक्टूबर को उसे मेडिकल में भर्ती किया गया था. घटना के दिन दोपहर 4 बजे के करीब वह पुलिस की नजर चुकाकर मेडिकल से फरार हुआ था. जेल के सुरक्षा रक्षक अमोल पाखरे की शिकायत पर अजनी पुलिस ने मामला दर्ज किया था. मेडिकल से भागने के बाद मजीद ने ट्रक से शहर से पलायन किया था.

अकोला में अपने रिश्तेदारों की सहायता से वह रहने लगा था. पुलिस की अपराध शाखा के उपायुक्त गजानन राजमाने के मार्गदर्शन में कार्यरत एपीआई गणेश पवार, ईश्वर जगदाले, पीएसआई बलराम झाडोकार के दल को आरोपी के छुपने के स्थान के बारे में जानकारी मिली, जिसके आधार पर पुलिस पथक अकोला में उमरी परिसर में गया. वहां पर जाल बिछाकर आरोपी मजीद को गिरफ्तार किया गया.