Youth committed suicide in gadchiroli
File Photo

नागपुर. मानसिक तनाव में 2 युवकों ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. मंगलवार की सुबह दोनों घटनाएं सामने आई. एक सुशिक्षित युवक ने रोजगार नहीं मिलने के कारण फांसी लगाई. दूसरे के तनाव का कारण पता नहीं चल पाया है. बजाज अपार्टमेंट, त्रिमूर्तिनगर रिंग रोड निवासी सूरज यशवंत बोरकर (21) ने मंगलवार की सुबह अपने बेडरूम में सीलिंग फैन से दुपट्टा बांधकर फांसी लगा ली. 8 बजे के दौरान बहन सोनाली ने दरवाजे पर दस्तक दी लेकिन जवाब नहीं मिला. कमरे के भीतर झांकने पर सूरज फंदे पर लटका दिखाई दिया. घटना की जानकारी पुलिस को दी.

प्रतापनगर पुलिस मौके पर पहुंची. पंचनामा कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा. सूरज ने बीएससी की पढ़ाई पूरी कर ली थी. पिता यशवंत नागभीड़ पुलिस स्टेशन में एएसआई है. सूरज की आत्महत्या की वजह स्पष्ट नहीं हो पाई है. वाट्सएप के कुछ मैसेज से उसके तनाव में होने का पता चलता है. पुलिस ने आकस्मिक मृत्यु का मामला दर्ज कर जांच शुरु की है.

नौकरी नहीं मिलने से था निराश

दूसरी घटना वाठोड़ा थाना क्षेत्र में हुई. मृतक रामकृष्णनगर, वाठोड़ा लेआउट निवासी स्वप्निल काशीराम करुड़कर (24) बताया गया. स्वप्निल ग्रैजुएशन पूरा करने के बाद से प्रतिस्पर्धा परीक्षा की तैयारी कर रहा था. इसके साथ ही कुछ जगहों पर उसने इंटरव्यू भी दिया था, लेकिन हर जगह उसे निराशा हाथ लगी. इस वजह से वह तनाव में था. स्वप्निल के पिता का वर्ष 2016 में देहांत हो गया. भाई पंकज शहर पुलिस में कार्यरत है. सोमवार की रात 10 बजे के दौरान स्वप्निल कमरे में सोने चला गया. देर रात उसने सीलिंग फैन के हुक से रस्सी बांध कर फांसी लगा ली.

मंगलवार की सुबह 10 बजे तक भी वह कमरे से बाहर नहीं निकला तो परिजनों को चिंता हुई. जांच करने पर स्वप्निल फंदे से लटका दिखाई दिया. भाई पंकज ने घटना की जानकारी पुलिस को दी. वाठोड़ा थाने के हेड कांस्टेबल मनीष शिरपुरवार अपने दल के साथ मौके पर पहुंचे. पंचनामा कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा. जांच के दौरान पुलिस को एक सुसाइड नोट मिला, जिसमें स्वप्निल ने जीवन से हताश होने की बात लिखी थी. उसने पूरी मेहनत करने के बावजूद नौकरी नहीं मिलने का उल्लेख किया था. पुलिस ने आकस्मिक मृत्यु का मामला दर्ज कर जांच आरंभ की है.