Kovid-19 eighth death in Bihar, 1,284 people infected

  • प्रादेशिक संचालक रंगारी ने की सतर्कता की अपील

नागपुर. कोरोना काल में अखंडित बिजली सेवा सुचारू रखने के के लिए सेवा देने वाले बिजली कर्मचारियों का भी जीवन संकट में आ गया है. अब तक विदर्भ में कुल 21 बिजली कर्मचारियों की कोरोना से मौत हो गई है. प्रादेशिक संचालक सुहास रंगारी ने कोरोना काल में नागरिकों की सेवा में जुटे विभाग के कोरोना योद्धाओं को सतर्कता बरतने व नियमों का पालन करते हुए ड्यूटी करने की अपील की है. उन्होंने वीडियो कांफ्रेंसिग के जरिये कर्मचारी संगठनों के प्रतिनिधियों से संवाद साधा और उक्त अपील की.

बताया गया कि मार्च 2020 से अप्रैल 2021 तक नागपुर प्रादेशिक विभाग में 1,317 अधिकारी व कर्मचारी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं. इसमें से 659 स्वस्थ हो गए लेकिन वर्तमान में 637 अस्पतालों व घरों में उपचार ले रहे हैं. इनमें से 21 की दुर्भाग्यजनक मौत हो गई है. उन्होंने कहा कि दूसरी वेव बहुत खतरनाक है और यह युवा वर्ग को भी संक्रमित कर रही है. जिसे चलते जल्द से जल्द सभी कर्मचारियों को वैक्सीन लगाने की अपील भी उन्होंने की.

25 फीसदी ने लगवाई वैक्सीन

बताया गया कि अब तक नागपुर प्रादेशिक विभाग में नियमित व ठेका पर कार्यरत कर्मचारियों में से 25 फीसदी ने वैक्सीन ले ली है. आने वाले 15 दिनों में अधिक से अधिक कर्मचारियों के लिए वैक्सीन की व्यवस्था करने का निर्देश उन्होने संबंधित अधिकारियों को दिया है. उन्होंने सभी से कोरोना से बचने के लिए मास्क, सैनिटाइजर व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की अपील की. संवाद कार्यक्रम में  सभी मुख्य अभियंता, अधीक्षक अभियंता के साथ ही नागपुर परिमंडल के मुख्य अभियंता दिलीप दोडके, अधीक्षक अभियंता हरीश गजबे, अजय खोब्रागडे, अमित परांजपे, सहायक महाव्यवस्थापक जॉन रामटेके, सहमुख्य औद्योगिक संबंध अधिकारी मधुसूदन मराठे व सभी अधिकारी व संगठन के प्रतिनिधि सहभागी हुए.