Corona death
File

  • 11,583 नये पॉजिटिव
  • 13,951 हुए स्वस्थ्य
  • 74,127 एक्टिव केस

नागपुर. बीते दो दिनों में जिले में कोरोना संक्रमण से 211 मरीजों की मौत हो गई. 1 मई को 99 और 2 मई को 112 कोरोना की बलि चढ़ गए. वहीं इन दो दिनों में कुल 11,583 नये संक्रमित मिले हैं. साथ ही उत्साहजनक यह भी है कि जितने नये मरीज इन दो दिनों में मिले हैं उससे अधिक स्वस्थ होकर अपने घरों को लौटे हैं. दो दिनो में कुल 13,951 मरीज स्वस्थ्य होकर घरों को लौटे हैं. जिसके चलते रिकवरी रेट अब 80.51 प्रतिशत पर पहुंच गया है. करीब एक सप्ताह पूर्व तक यह 74 तक उतर गया था. धीरे-धीरे ही सही लेकिन हालात में अब सुधार होते नजर आ रहा है.

कोविड अस्पतालों में बेड की संख्या के साथ ही ऑक्सीजन की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है. जिसका परिणाम अब नजर आने लगा है. स्वस्थ होकर घर लौटने वाले मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही हैं. शनिवार को जिले में 6,576 नये पॉजिटिव मिले तो उससे कहीं अधिक 7,575 स्वस्थ होकर घरों को लौटे. वहीं रविवार को 5,007 नये मरीज मिले तो 6,376 स्वस्थ होकर घर लौटे. अब तक जिले में कुल 7,599 की मौत इस महामारी से हो चुकी है.

4 लाख के पार हुए पॉजिटिव

जिले में अब तक कोरोना पॉजिटिव की संख्या 4 लाख के पार हो चुकी है. अब तक 4,19,370 पॉजिटिव आए हैं जिसमें सिटी के 3,01,111 और जिले के ग्रामीण भागों के 1,16,996 का समावेश है. वहीं 1,263 जिले के बाहर के हैं. इसमें से अब तक 3,37,644 स्वस्थ भी हो चुके हैं. स्वस्थ होने वालों वालों में सिटी के 2,53,987 और ग्रामीण भागों के 83,657 का समावेश हैं. रविवार को जिन 112 की मौत हुई है उसमें 62 सिटी के हैं और 36 ग्रामीण इलाकों के हैं. वहीं 14 जिले के बाहर के हैं. इन्हें मिलाकर कुल मरने वालों की संख्या 7,599 हो गई है. इसमें सिटी के 4,597 और 1,921 ग्रामीण भागों से है. 1,081 जिले के बाहर के हैं. 

14,000 के करीब हॉस्पिटल में

शासन से मिली रिपोर्ट के अनुसार जिले के विविध कोविड अस्पतालों और कोविड केयर सेंटरों में रविवार को 13,897 कोरोना के मरीज उपचार के लिए भर्ती थे. वहां 60,230 होम क्वारंटाइन होकर अपने घरों में उपचार करवा रहे हैं. होम क्वारंटाइन में भी कई लोगों को ऑक्सीजन लगे होने की जानकारी है. जिले में 74,127 एक्टिव केस हैं जिसमें से 42,276 सिटी के और 31,851 ग्रामीण भागों के हैं. 

सतर्कता की अपील

डॉक्टर्स और जिला प्रशासन द्वारा नागरिकों से अपील की जा रही है कि वे पूरी तरह सतर्क रहें और कोविड के दिशानिर्देशों का पालन करें. अभी भी सुबह 7 से 11 बजे तक खुल रहे सब्जी बाजारों, डेयरी दूकानों, मटन-चिकन की दूकानों में भारी भीड़ दिखाई दे रही है. कई जगहों पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया जा रहा है. कुछ पैथालॉजी लैब्स, डॉक्टरों के क्लीनिक, बैंकों के सामने भी लोगों की भारी भीड़ दिखाई दे रही है. सिटी स्कैन करवाने के लिए डायग्नोसिस सेंटरों के बाहर कतारें लग रही हैं जिसमें भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया जा रहा है. वैक्सीन सेंटरों में बुजुर्ग वर्ग भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करते दिख रहे हैं. नागरिकों की यह लापरवाही उन्हें ही बहुत भारी पड़ सकती है.