VNIT

  • एनआईआरएफ ने दिया 27वां स्थान

नागपुर. सूचना का अधिकार अधिनियम (आरटीआई) के तहत सामाजिक कार्यकर्ता अभय कोलारकर ने विश्वेश्वरय्या राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (वीएनआईटी) से कई जरूरी सवाल किए. कोलारकर के सवाल एकेडिमक वर्ष 2017 से 2020 के बीच घटित गतिविधियों पर आधारित है. उनके द्वारा किए गए 8 सवालों का संस्था ने जवाब दिया. संस्था ने विगत 3 एकेडमिक वर्षों में सीटों की कुल संख्या 4071 बताया जिसपर 3743 छात्रों को नामांकन दिया गया जबकि 328 सीट खाली थी.

नेशनल इंस्टीट्यूटनल रैंकिंग फ्रेमवर्क (एनआईआरएफ) ने वीएनआईटी को इस वर्ष 27वां स्थान दिया. 2018 और 2019 में यह 31वें स्थान पर थी. वर्तमान सत्र में संस्था में कुल 130 कंपनियों ने 521 योग्य छात्रों में से 449 को जॉब ऑफर की. इस दौरान 86 प्रतिशत छात्रों ने प्लेसमेंट के जरिए नौकरी प्राप्त की. चयनित छात्रों की अधिकतम वार्षिक आय 38.21 लाख रुपए बताई गई है.

कर्मचारियों के लिए मंजूर पदों की कुल संख्या 704 बताई गई है. वर्तमान में 405 पदों पर कर्मचारी कार्यरत है जबकि 299 रिक्त हैं. कोलारकर द्वारा पूछे गए संस्था के कैम्पस का कुल क्षेत्रफल और उनमें निर्मित भवनों की संख्या पर वीएनआईटी ने जवाब देते हुए कहा कि 211.16 एकड़ में फैले कैम्पस में 145 भवन बने हुए हैं.