arrest

  • पूर्व कर्मचारी निकला मास्टर माइंड

नागपुर. गांधीबाग के क्लॉथ मार्केट में स्थित दूकान में हुई चोरी के मामले में तहसील पुलिस ने 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. दूकान का पूर्व कर्मचारी ही मास्टर माइंड निकला. पकड़े गए आरोपियों में अहूजानगर, जरीपटका निवासी दीपक सुंदरलाल मंधान (40), राजापेठ, अमरावती निवासी रविंद्र जमतीलाल अड़तिया (35) और मनीष हरीष पारवानी (29) का समावेश है. विगत 17 अक्टूबर की रात आरोपियों ने गांधीबाग स्थित देव क्रिएशन नामक दूकान में सेंध लगाई थी.

पुलिस ने दूकान के मालिक दिनेश परयानी (40) की शिकायत पर मामला दर्ज किया था. डुप्लिकेट चाबी से लॉक खोलकर दूकान से नकद, कैमरों के डीवीआर सहित 2 लाख रुपये का माल चोरी किया गया था. इसीलिए पुलिस को किसी जानकार व्यक्ति द्वारा सेंध लगाए जाने का संदेह था.

पुलिस को जानकारी मिली कि कुछ समय पहले दिनेश ने दूकान में काम करने वाले दीपक मंधान को काम से निकाला है. पुलिस ने उसे पूछताछ के लिए बुलाया तो पता चला वह गोवा जा रहा है. कर्जाबाजारी होने के कारण पुलिस को उसी पर चोरी का संदेह था. हिरासत में लेकर पूछताछ करने पर उसने अमरावती में रहने वाले 2 दोस्तों के साथ मिलकर दूकान में सेंध लगाने का जानकारी दी.

पुलिस ने अन्य 2 को भी गिरफ्तार कर लिया. उनसे नकद 46,000 रुपये सहित 1.36 लाख रुपये का माल जब्त किया जा चुका है. डीसीपी लोहित मतानी के मार्गदर्शन में इंस्पेक्टर जयेश भांडारकर, दिलीप सागर, पीएसआई स्वप्निल वाघ, एएसआई संजय दुबे, कांस्टेबल सचिन टापरे, प्रवीण मानापुरे, पुरुषोत्तम जगनाड़े, रंजीत बावने और रुपेश सहारे ने कार्रवाई को अंजाम दिया.