Indian student dies due to drowning in a reservoir in New York area of America

  • कोलार नदी में हादसा, 2 के शव निकाले, तीनों युवक नागपुर के

सिल्लेवाड़ा. नागपुर से अस्थि विसर्जन करने गए परिवार के तीन युवक कोलार नदी में डूब गए. इस हादसे से शोक की लहर दौड़ पड़ी. डूबे युवकों में आकाश राजेन्द्र राउत (25), हर्षित राजू एडवान (20) और नयन ऐडकर (20) शामिल हैं. जानकारी के अनुसार नागपुर के बाबुलखेड़ा निवासी लहानुबाई सदाशिव सर्वदय (82) के अंतिम संस्कार के बाद अस्थियां विसर्जित करने के लिए उनका परिवार और शुभचिंतक गए थे. शनिवार की दोपहर नागपुर छिंदवाड़ा महामार्ग पर स्थित दहेगांव के समीप किले कोलार घाट पर गए थे.

वर्षा के बाद कोलार नदी पूरे प्रवाह में है. अस्थि विसर्जित करते समय सभी लोग नदी में उतरे. युवकों को पानी की गहराई का अंदाजा नहीं था. इनमें सबसे आगे आकाश राउत था. पानी की गहराई पता नहीं होने से वह गहरे पानी में डूबने लगा. उसे डूबता देख महल निवासी हर्षित एडवान बचाने के लिए पानी में पहुंचा लेकिन पानी के प्रवाह में वह खुद को भी नहीं संभाल पाया. इन दोनों को देख बाबुलखेड़ा निवासी नयन एडकर भी उनके पीछे गया लेकिन नदी की गहराई और प्रवाह के आगे तीनों अशक्त हो गए. एक के बाद एक तीनों पानी में समा गए.

यह दृश्य देख सभी परिजनों में खलबली मच गई. पुलिस को घटना की जानकारी मिलने पर खापरखेड़ा के थानेदार जयपाल सिंह गिरासे अपने दल के साथ कोलार नदी के घाट पर पहुंचे. पहले स्थानीय मछुवारों ने तीनों को ढूढने की कोशिश की लेकिन सफलता नहीं मिली. आनन फानन में एसडीआरएफ व नागपुर मनपा की टीम को बुलाई गई. सर्च ऑपेरशन में काफी मशक्कत के बाद आकाश व नयन का शव मिल गया. लेकिन अभियान चलाते रात हो जाने से ढूंढना रोक दिया गया. हर्षित एडवान के शव को रविवार को सुबह खोजा जाएगा. 

अस्थि विसर्जन रिस्की
अस्थि विसर्जन करते समय बार-बार डूबने की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं. करीब 6 महीने पहले रामाकोना की कन्हान नदी में अस्थि विसर्जन करने पहुंचे यादव परिवार के युवक डूब गए थे. इसी तरह तीन माह पहले रामटेक के तालाब में भी अस्थि विसर्जन करते युवक की मौत हो गई थी. अस्थि विसर्जन स्थल पर तत्काल बचाव व सतर्कता की कोई व्यवस्था नहीं होने से बार-बार घटनाएं हो रही हैं.ṁ