arrest

नागपुर. ई-टिकटों की कालाबाजारी करने वाल एजेंट पर नकेल कसने के लिए आरपीएफ और सीआईबी की टीम ने संयुक्त कार्यवाही करते हुए नागपुर, भंडारा और गोंदिया के कई प्रतिष्ठानों पर छापा मारा. एसईसीआर के मंडल सुरक्षा आयुक्त एके स्वामी के मार्गदर्शन में टीम ने इंटरनेट पर ई-टिकट बनाकर उसकी कालाबाजारी करने वाले 6 एजेंटों को धर दबोचा. इसके बाद एजेंटों को न्यायालय में पेश किया गया.

कार्यवाही उन यात्रियों को फायदा होगा जिन्हें ई-टिकटों की कालाबाजारी के कारण आसानी से यात्रा टिकट नहीं मिलता है. कार्यवाही के दौरान मोतीबाग, ईतवारी सहित भंडारा और गोंदिया के आरपीएफ थाना ने कुल 68 ई-टिकटों को जप्त किया जिसकी लागत एक लाख रुपये से अधिक बताई गई है.

यात्रियों से जानकारी साझा करने की अपिल

आरपीएफ मोतीबाग की टीम ने यशोधरा नगर थानांगर्त प्लॉट नं. 1824 के निवासी 30 वर्षीय मो. नौशाद और सरदराबाद के 35 वर्षीय मो. सलीम को गिरफ्तार किया. वहीं ईतवारी की टीम ने लकडगंज थानांगर्त हाउस नं. 599 के निवासी संदेश जैन (42 वर्ष) और अजनी थानांगर्त चंद्रमणि नगर गली नं. 2एल के रक्षक को दबोचा. भंडारा और गोंदिया की टीम ने क्रमश: मौदा थानांगर्त रामटेक रोड, रामनगर वार्ड नं. 4 के रोशन हटवार (36) और रावनवाड़ी थानांगर्त हनुमान मंदिर निवासी सचिन देवधारी (28) को हथकड़ी पहनाई.

मंडल सुरक्षा आयुक्त स्वामी ने यात्रियों से अपिल की है कि वह टिकटों की कालाबाजारी से संबंधित किसी भी तरह की जानकारी आरपीएफ से जरूर साझा करें. जीए गरकल, अनिल पाटिल, विकास कुमार, आरके सिंह, यु. बिसेन, एके चौरसिया, मयंक मिश्रा, सीकेपी टेंभुर्णिकर, आरके मिणा, ईशांत दिक्षित, विवेक कनोजिया, ओएस चौहान की संयुक्त टीम ने कार्यवाही को अंजाम दिया.