Mayo Hospital

  • बिना लक्षण वाले अधिक मिल रहे मरीज

नागपुर. कोरोना मरीजों की संख्या जिस रफ्तार से बढ़ रही है. उसे देखकर लग रहा है कि जल्द ही आंकडा 1200 के करीब पहुंच जाएगा. लेकिन अच्छी बात यह है कि अधिकांश मरीजों में लक्षण नहीं दिखाई दे रहे हैं. लक्षण नहीं दिखने वाले मरीजों की तबीयत में जल्द सुधार हो रहा है. यही वजह है कि हर दिन छुट्टी मिलने का सिलसिला जारी है. छुट्टी के बाद मरीजों को 7 दिन के सख्त होम क्वारंटाइन में रखा जा रहा है. इस बीच गुरुवार को कुल 77 मरीजों को छुट्टी दी गई. जो कि अब तक की सबसे बड़ी संख्या है. वहीं 33 नये मरीजों में संक्रमण की पुष्टि हुई है.

मनपा प्रशासन द्वारा कोविड सेंटर तैयार किये जाने के बाद बिना लक्षण वाले मरीजों को उन्हीं सेंटर में रखा जाएगा. जबकि मेडिकल और मेयो में केवल गंभीर मरीजों को ही भर्ती किया जाएगा. इस वजह से पिछले तीन महीने से अधिक समय से सेवा में लगे मेडिकल और मेयो के डाक्टरों को राहत मिलेगी. मनपा द्वारा एमएलए होस्टल में पाजिटिव मरीजों को भर्ती किया जाएगा. गुरुवार को आई रिपोर्ट में गणेशपेठ. लष्करीबाग.कमाल चौक. चंद्रमणी नगर आदि भागों के मरीजों का समावेश रहा. सभी लोग क्वारंटाइन सेंटर में रखे गये थे.

7 दिनों का होम क्वारंटाइन 
इस बीच मेडिकल से 46 और मेयो से 30 लोगों को छुट्टी दी गई. जबकि एम्स से एक मरीज को छुट्टी मिली. इनमें नाईक तालाब परिसर से सबसे अधिक 21 लोगों को छुट्टी दी गई है. वहीं मोमिनपुरा के 5 मरीज है. इसके अलावा हिंगना. हंसापुरी. कमाल चौक के मरीजों को भी छुट्टी दी गई. सभी को 7 दिनों तक होम क्वारंटाइन में रहने की सलाह दी गई है. अब पॉजिटिव मरीजों को 10 दिनों के भीतर ही छुट्टी दी जा रही है. यदि 7-9वें दिन तक मरीज की हालत सामान्य रहती है. तो उन्हें छुट्टी दे दी जाती है. जबकि तबीयत में सुधार नहीं होने पर भर्ती ही रखा जाता है. 

सिटी में आज तक की स्थिति

1142 कुल संक्रमित

33 गुरुवार को पॉजिटिव

18 की अब तक मौत

2,417 क्वारंटाइन

301 होम क्वारंटाइन

775 को मिली छुट्टी