Surgical Gloves
File Photo

    नागपुर. युवाओं में बढ़ रही ड्रग्स के नशे की लत को देखते हुए पुलिस कमिश्नर अमितेश कुमार ने ड्रग्स पेडलरों के खिलाफ संयुक्त रूप से छापेमारी और कार्रवाई करने के निर्देश दिए थे. सोमवार की सुबह से ही क्राइम ब्रांच की अलग-अलग टीमें काम में जुट गई और दिनभर में 86 स्थानों पर छापेमारी की गई. इसके अलावा हथियारों के साथ भी कुछ अपराधियों को दबोचा गया.

    सीपी ने ड्रग्स के सभी धंधे पूरी तरह बंद करवाने के निर्देश विभाग को दिए है. छोटे-बड़े सभी विक्रेता सलाखों के पीछे होने चाहिए. इसके लिए पुलिस ड्रग्स सेवन करने वालों की भी धरपकड़ कर रही है. उन्हें माल बेचने वालों का पता लगाया जा रहा है. पुलिस की कार्रवाई शुरू होने पर ड्रग्स विक्रेता अंडरग्राउंड हो जाते हैं.

    इसीलिए सोमवार को एक साथ सभी पर छापेमारी करने का निर्णय लिया गया. अलग-अलग स्थानों से पुलिस ने 20 विक्रेताओं को गिरफ्तार किया. उनसे 13 लाख रुपये का एमडी(मेफेड्रोन ड्रग्स) 7.80 लाख रुपये की चरस और 2.5 किलो ग्राम गांजा जब्त किया गया है. कुछ स्थानों पर पुलिस ने जुआरियों और शराब विक्रेताओं को भी गिरफ्तार किया है. आने वाले दिनों में यह अभियान और तेज होगा.