corona-death
File Photo

नागपुर. जिले में कोरोना का कहर भले ही कुछ कम लग रहा हो, लेकिन वह पूरी तरह खत्म नहीं हुआ है. रोज 400 से ऊपर पॉजिटिव मिल रहे हैं तो लोगों की मौतों का सिलसिला भी खत्म नहीं हुआ है. शनिवार को फिर जिले के 9 लोग इस महामारी की बलि चढ़ गए. 9 लोगों की कोरोना से मौत हो गई जिनमें 4 ग्रामीण भागों से, 3 सिटी के और 2 जिले के बाहर के हैं. इन्हें मिलाकर अब तक जिले में कोरोना से मरने वालों की संख्या 3,645 हो गई है. इनमें सिटी के ही सर्वाधिक 2,524 लोगों का समावेश है.

जिले के ग्रामीण भागों के 626 इस संक्रमण की भेंट चढ़ चुके हैं और 495 जिले के बाहर के हैं जो इलाज के लिए नागपुर लाए गए थे और काल के गाल में समा गए. दिवाली के बाद दोबारा पॉजिटिव मरीजों के मिलने की संख्या बढ़ी है. मौतों पर डॉक्टरों की मेहनत से अंकुश लगा हुआ है. डॉक्टरों ने अपील की है कि कोरोना की दवाई आने में अभी भी कम से कम 4-5 महीने का समय है, ऐसे में जब तक दवाई नहीं आ जाती तब तक किसी तरह की ढिलाई नागरिक न बरतें. कोविड-19 के सभी नियमों को अपनी दिनचर्या में कड़ाई से शामिल करें ताकि खुद को और अपनों को इस महामारी से बचाएं.

401 मिले पॉजिटिव

शनिवार को फिर जिले में 401 नये कोरोना संक्रमित पाए गए. इन्हें मिलाकर अब तक जिले में पॉजिटिव की संख्या 1,11,190 हो गई है. यह आंकड़ा सवा लाख तक पहुंचने के करीब है तो मौतों का आंकड़ा 4,000 की संख्या छू सकता है. शनिवार को विविध लैब्स से जो रिपोर्ट आईं उनमें सिटी के ही 335 पॉजिटिव पाए गए हैं. वहीं ग्रामीण भागों के 64 और जिले के बाहर के 2 लोगों का समावेश है. शनिवार को कुल 5,271 टेस्ट रिपोर्ट आई जिनमें 3,705 आरटी-पीसीआर और 1,566 एंटीजन का समावेश है.

331 की हुई छुट्टी

दिवाली के पहले पॉजिटिव मिलने वालों की संख्या कम और स्वस्थ होकर घर लौटने वालों की संख्या अधिक हो गई थी लेकिन अब एक बार फिर दैनिक पॉजिटिव की संख्या बढ़ गई है और स्वस्थ होकर घर लौटने वालों की संख्या कम हो रही है. शनिवार को जहां 401 पॉजिटिव मिले, वहीं 331 की छुट्टी भी हुई. इन्हें मिलाकर जिले में अब तक स्वस्थ होने वालों की संख्या 1,02,482 हो गई है. कुल एक्टिव केस 5,063 हैं, जिसमें 4,414 सिटी के और 649 ग्रामीण भागों के हैं.