arrest

  • वकील के घर किया था लूटपाट का प्रयास

नागपुर. वकील के घर में घुसकर लूटपाट का प्रयास करने वाले आरोपी को सक्करदरा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. सीसीटीवी फुटेज का आकलन करते हुए पुलिस सीधे आरोपी के घर तक पहुंच गई. आर्थिक तंगी के चलते लूटपाट करने की जानकारी आरोपी ने दी. पकड़ा गया आरोपी बोलेगांव, बालाघाट निवासी डोमेश्वर कुंवरलाल कावरे (24) बताया गया. रेशिमबाग निवासी अधिवक्ता शिरीष कोतवाल (60) और उनकी पत्नी गौरी 12 दिसंबर की सुबह 7.15 बजे के दौरान अपने घर में मौजूद थे. इसी समय डोमेश्वर उनके घर में घुस गया..

गौरी की गर्दन पर चाकू लगाकर नकद रुपये मांगने लगा. कोतवाल ने विरोध करते हुए पत्नी को उससे छुड़ा लिया और बाहर जाकर मदद मांगने को कहा. इस दौरान आरोपी ने रास्ता रोकने की कोशिश की. हाथापायी में कोतवाल की उंगली में चाकू का घाव लग गया. आसपास के लोग जमा हो गए और डोमेश्वर को पकड़ लिया. उसकी धुनाई भी की गई. पुलिस स्टेशन जाते समय उसे छोड़ दिया गया. इस घटना से कोतवाल घबरा गए थे. पहले दिन उन्होंने कोई शिकायत नहीं दी थी. 13 दिसंबर को उन्होंने पुलिस से शिकायत की. पुलिस ने परिसर में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली.

आज कोर्ट में होगी पेशी

डोमेश्वर आवारी चौक से होते हुए हनुमाननगर स्थित अपने घर पहुंचा. पुलिस ने हनुमाननगर इलाके में पूछताछ शुरू की और डोमेश्वर पुलिस के हाथ लगा. प्राथमिक पूछताछ में पता चला कि वह मजदूरी करता है. उसने पुलिस को बताया कि वह आर्थिक तंगी से परेशान था. वह कोतवाल के घर पर काम मांगने गया था. लेकिन कोई चाकू लेकर काम मांगने नहीं जाता. इससे साफ है कि वह लूटपाट के इरादे से ही घर में घुसा था. पुलिस उसका आपराधिक रिकॉर्ड खंगाल रही है.

बुधवार को उसे न्यायालय में पेश कर पुलिस हिरासत मांगी जाएगी. डीसीपी अक्षय शिंदे, एसीपी नलावड़े और इंस्पेक्टर सत्यवान माने के मार्गदर्शन में पीएसआई विजय मसराम, हेड कांस्टेबल प्रकाश वानखेड़े, कांस्टेबल नीलेश ढोणे, संदीप बोरसरे, नितिन राउत, किशोर हाते, हेमंत उइके और दीपक तार्हेकर ने कार्रवाई की.