Action on Without mask
File Photo

  • आज से दूकानदारों पर भी सख्ती
  • 737 बिना मास्क के पकड़े गए
  • 871 ने नहीं किया सोशल डिस्टेंसिंग का पालन
  • 1,086 पर चालान कार्रवाई
  • 1,451 के वाहन हुए डिटेन

नागपुर. सख्ती के बावजूद लॉकडाउन नियमों की अनदेखी कर रास्ते पर निकल रहे लोगों के खिलाफ पुलिस विभाग ने कार्रवाई तेज कर दी है. सोमवार को रास्तों पर वाहनों की आवाजाही देख सीपी अमितेश कुमार ने दोबारा अधिकारियों के साथ चर्चा कर बंदोबस्त में बदलाव करने और वाहन चालकों की जांच करने के निर्देश दिए. मंगलवार को पुलिस ने 2,694 लोगों के खिलाफ कार्रवाई की. घर से निकलने वाले ज्यादातर लोगों ने दूध और सब्जी खरीदने निकलने का बहाना बताया था. ऐसे में मनपा आयुक्त से दूकानों के समय में कटौती करने का सुझाव दिया गया था.

मनपा आयुक्त के नये आदेशों के बाद अब मेडिकल स्टोर को छोड़कर सारी दूकानें 1 बजे बंद हो जाएंगी. इस समयावधि का सख्ती से पालन हो इसीलिए अब मुख्य मार्गों के अलावा बस्तियों में भी गश्त बढ़ाने का निर्णय लिया गया है. सभी थानेदारों को वाहनों में उपलब्ध पब्लिक अनाउन्समेंट सिस्टम के जरिए दूकानदारों को चेतावनी देने और इसके बाद भी उल्लंघन होने पर महामारी और आपदा प्रबंधन कानून के तहत मामला दर्ज करने के निर्देश दिए गए हैं.

99 स्थानों पर हो रही नाकाबंदी 

पुलिस ने जांच के लिए 99 स्थानों पर नाकाबंदी प्वाइंट लगाए. समय-समय पर प्वाइंट बदलने का भी निर्णय लिया गया है. मुख्य मार्गों को छोड़कर शहर के फीडर रोड बंद करने का निर्णय लिया गया है. नाकाबंदी के दौरान पुलिस ने  रास्तों पर अनावश्यक घूम रहे 1,451 लोगों के वाहन डिटेन कर लिए. नियमों का पालन नहीं करने वाले 1,086 लोगों को चालान किया गया. मास्क के बगैर घर से निकले 737 और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने वाले 871 लोगों के खिलाफ कार्रवाई की गई. लॉकडाउन के दिशानिर्देशों की अवहेलना करने वाले 41 दूकानदारों के खिलाफ धारा 188 के तहत कार्रवाई की गई. 

3 शराब दूकानदारों के लाइसेन्स रद्द करने का प्रस्ताव

कोरोना लॉकडाउन के तहत जारी किए गए आदेशों को नजरअंदाज कर शराब बेचने वाले 3 दूकानदारों के खिलाफ पुलिस ने महामारी कानून सहित विविध धाराओं के तहत कार्रवाई की है. बार-बार अपील किए जाने के बावजूद नियमों की अनदेखी होती देख अब पुलिस ने 3 दूकानदारों के लाइसेन्स रद्द करने का प्रस्ताव एक्साइज विभाग को भेजा है. शराब के लिए केवल होम डिलीवरी को अनुमति होने के बावजूद कुछ दूकानदार आधा शटर गिराकर माल बेच रहे हैं. ऐसे दूकानदारों पर पुलिस नजर बनाए हुए है. 

3 फ्लाईओवर खुले, 14 बंद 

शहर के फ्लाईओवर बंद होने के कारण लोगों में नाराजगी साफ देखी जा सकती है. सोमवार को पुलिस ने शहर के सभी 17 फ्लाईओवर पर आवाजाही बंद कर दी. इसीलिए वाहनों की आवाजाही नीचे से हुई और रास्तों पर लोगों की भीड़ लग गई. कुछ पुल के नीचे रेलवे क्रासिंग होने के कारण जाम जैसी स्थिति बन गई. इसे ध्यान में रखते हुए 3 फ्लाई ओवर खोल दिए गए हैं लेकिन अन्य 14 बंद हैं. नागरिकों की मांग है कि इन फ्लाईओवरों को भी खोल दिया जाए. इससे नीचे के मार्गों पर वाहनों की भीड़ नहीं होगी.