Nylon Manja Seized, Nagpur

  • मनपा और पुलिस ने शुरू की संयुक्त कार्रवाई
  • 167 चक्री मांजा जब्त
  • 504 दूकानों की हुई जांच

नागपुर. नायलॉन मांजा पर पाबंदी के बावजूद धड़ल्ले से बिक्री जारी है. शहर में नायलॉन मांजा के कारण हो रही दुर्घटनाओं को देखते हुए अब न केवल मनपा का एनडीएस दस्ता, बल्कि पुलिस भी सक्रिय हो गई. बुधवार को एनडीएस और पुलिस की ओर से न केवल मांजा और पतंग बेचनेवाले दूकानदार बल्कि नायलॉन मांजा का उपयोग कर पतंग उड़ानेवालों के खिलाफ भी कार्रवाई की गई. जिसमें युवाओं को पुलिस ने गिरफ्तार भी किया.

इसके अलावा मनपा और पुलिस ने संयुक्त रूप से पतंग और मांजा बेच रहे शहर के कुल 504 दूकानों की जांच की. जिसमें 167 चक्री मांजा और 2,780 पतंग जब्त किए गए. उल्लेखनीय है कि एक दिन पहले ही नायलॉन मांजा के कारण 20 वर्षीय युवा की जान गई थी. जिसे गंभीरता से लेते हुए महापौर दयाशंकर तिवारी और मनपा आयुक्त राधाकृष्णन.बी ने कड़ी कार्रवाई करने की हिदायत एनडीएस दस्ते को दी.

कार्रवाई में जुटे है 81 कर्मचारी

अतिरिक्त आयुक्त राम जोशी ने कहा कि नायलॉन मांजा और प्लास्टिक पतंग के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए एनडीएस के 81 कर्मचारी कार्यरत है. इसके अलावा स्वयंसेवी संस्थाएं भी सहयोग कर रही है, किंतु शहर के दायरे को देखते हुए यह संख्या काफी कम है. नायलॉन मांजा पर अंकुश लगाने के लिए जनसहयोग की आवश्यकता है. भीड़ से दूर मैदान में ही पतंग उड़ाया जाना चाहिए. पालकों को भी बच्चों को नायलॉन, मांजा के दुष्परिणामों की जानकारी दी जानी चाहिए. उन्होंने नायलॉन मांजा की बिक्री और उपयोग की जोनल कार्यालय या पुलिस स्टेशन को सूचित करने की अपील भी की. 

नायलॉन मांजा का उपयोग न करें : महापौर

नायलॉन मांजा से शहर में हो रही दुर्घटनाएं दुर्भाग्यपूर्ण है. यहां तक कि एक युवा की जान गई है. मनपा की ओर से इसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई को गति देनी चाहिए. नायलॉन मांजा से किसी भी परिवार के साथ घटना हो सकती है. अत: इसका उपयोग न करने की अपील महापौर दयाशंकर तिवारी ने जनता से की. उन्होंने मांजा से वाहन चालकों के बचाव के लिए फ्लाईओवर्स पर तार लगाने के आदेश भी प्रशासन को दिए.