अतिरिक्त पुलिस बुलाकर करनी पड़ी कार्रवाई, अतिक्रमण कार्रवाई का जमकर विरोध, काफी देर चला हंगामा

नागपुर. बुधवार की दोपहर लकडगंज जोन अंतर्गत भंडारा रोड पर स्थित सात वचन लॉन के पास उस समय काफी देर के लिए हंगामा चलता रहा, जब मनपा के प्रवर्तन विभाग की ओर से यहां के भोजनालय के खिलाफ कार्रवाई शुरू की. अतिक्रमण कार्रवाई के जमकर हुए विरोध का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि कार्रवाई संभव नहीं हो पाने से प्रवर्तन विभाग को मजबूरन अतिरिक्त पुलिस बल को बुलाना पड़ गया.

इसके बाद भी रौनक भोजनालय के मालिक की ओर से विरोध जारी रहा. यहां तक कि मालिक ने अपनी मां और पत्नी सहित बच्चों को भी जेसीबी के सामने खड़ा कर दिया. विरोध और हंगामे के बीच ही दस्ते ने भोजनालय में से कुर्सियां, टेबल और अन्य सामान खाली कर दिया. 

जबरन निकालना पड़ा बाहर

भोजनालय के मालिक का मानना था कि किसी के कहने पर उनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है. जबकि वर्षों से भोजनालय चला रहे हैं. यहां तक कि नियमों के अनुसार उन्हें कार्रवाई के पूर्व कोई सूचना तक नहीं दी गई थी. विरोध के बावजूद कार्रवाई नहीं रूकने पर पूरा परिवार भोजनालय के भीतर बैठा रहा. जिससे भोजनालय को तोड़ने में दस्ते को परेशानी हो रही थी. अत: पुलिस की मदद से पूरे परिवार को जबरन भोजनालय के बाहर निकालकर तोडू कार्रवाई को अंजाम दिया गया.

कार्रवाई में प्रवर्तन विभाग उपायुक्त महेश मोरोणे, साधना पाटिल, प्रकाश वराडे, प्रवर्तन निरीक्षक संजय कांबले के मार्गदर्शन में अजय पझारे, गजानन वराडे, देवेन्द्र भोवते, स्वेता दांडेकर, प्रदीप मौंदेकर, शरद सावरकर, विनोद झाडे, मनोहर राठोड, नितिन शेरेकर, शादाब खान और आतिश वासनिक ने हिस्सा लिया.

8 अनधिकृत शेड पर चला बुलडोजर

भोजनालय मालिक के खिलाफ कार्रवाई के बाद दस्ते ने इसी परिसर में अनधिकृत रूप से निर्मित 8 शेड पर बुलडोजर चलाकर सभी को चकनाचूर कर दिया. जिसके बाद दस्ता कलमना रोड पर स्थित विजय नगर पहुंचा. यहां पर सड़कों के किनारे भारी मात्रा में अतिक्रमण किया गया था. साथ ही स्थायी दूकानदारों की ओर से फूटपाथ तक शेड तैयार किए गए थे.

दस्ते ने अस्थायी शेड के साथ ही दोनों ओर के चिकन, मांस और सब्जी के दूकानों को साफ कर दिया. कार्रवाई के दौरान जहां 22 अतिक्रमण हटाए गए, वहीं फूटपाथ पर रखे एक ठेले को भी जब्त किया गया. प्रवर्तन विभाग का अन्य दस्ता बुधवार को दिन भर बर्डी मेन रोड पर डटा रहा. रात 9 बजे तक मेन रोड को अतिक्रमणमुक्त रखने की कार्यवाही की गई.