File Photo
File Photo

  • कोरोना की दूसरी लहर आने की आयुक्त ने जताई आशंका

नागपुर. मनपा क्षेत्र में भले ही कोरोना का दुष्प्रभाव वर्तमान में कुछ कम दिखाई दे रहा हो, लेकिन विश्व स्तर पर इसकी भयावह स्थिति एवं अन्य देशों के साथ ही दिल्ली और अन्य कुछ राज्यों में कोरोना संक्रमण की स्थिति को देखते हुए राज्य में भी कोरोना की दूसरी लहर आने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता है. हाल ही में हुई दीपावली के बाद संक्रमण को रोकने के लिए विशेष सतर्कता बरतनी जरूरी है.

अत: महानगरपालिका क्षेत्र के अंतर्गत आनेवाले सभी माध्यम और सभी तरह के व्यवस्थापन के सभी स्कूल 3 जनवरी तक बंद रखने के आदेश मनपा आयुक्त राधाकृष्णन बी. ने बुधवार को जारी किए. किंतु छात्रों का अध्यापन जारी रखने के लिए सरकार द्वारा जारी मार्गदर्शक सूचनाओं के अनुसार ऑनलाइन शिक्षा प्रणाली पूर्ववत जारी रखने के आदेश भी दिए.

पूर्व नियोजित समय पर ही 10वीं और 12वीं की पूरक परीक्षा 

मनपा आयुक्त द्वारा जारी किए गए आदेश के अनुसार महाराष्ट्र राज्य माध्यमिक व उच्च माध्यमिक परीक्षा मंडल की ओर से 10वीं और 12वीं की पूरक परीक्षा का नियोजन किया गया था. मंडल के पूर्व नियोजित समय के अनुसार ही इन परीक्षाओं का आयोजन भी होगा. आदेश में स्पष्ट करते हुए आयुक्त ने कहा कि उक्त सभी आदेश 3 जनवरी 2021 तक ही मनपा क्षेत्र में जारी रहेंगे. उल्लेखनीय है कि गत 8 माह से बंद स्कूलों को 13 दिसंबर से शुरू करने का निर्णय मनपा ने लिया था, किंतु अब दूसरी लहर की आशंका के चलते 3 जनवरी तक स्कूलों को बंद रखा गया है. 

उल्लंघन किया तो कार्रवाई

जारी किए गए आदेश में स्पष्ट किया गया कि राज्य की 9वीं से 12वीं तक की कक्षाएं, छात्रगृह और आश्रमशालाओं को 23 नवंबर से ही शुरू करने के आदेश जारी किए जा चुके हैं. अत: इन्हें छोड़कर अन्य के लिए आदेश जारी किया गया है. इस आदेश पर सभी को तुरंत अमल करने की कड़ी हिदायत जारी की गई. सभी समन्वयन और संनियंत्रण, मनपा और जिला परिषद के शिक्षा विभाग के जिम्मेदार अधिकारियों को अमल करना है.

आदेश पर अमल करने में किसी भी तरह की कोताही एवं विरोध करने पर संबंधितों के खिलाफ आपत्ति व्यवस्थापन अधिनियम 2005 की धारा 51 से 60 भारतीय साथरोग नियंत्रण अधिनियम 1897 और भारतीय दंड संहिता 1860 की धारा 188 के अनुसार कानूनी कार्रवाई की चेतावनी भी दी गई.