Railway

  • लेकिन WCR के हाथ में अंतिम निर्णय

नागपुर. मध्य रेल नागपुर मंडल के तहत सांसदों तथा मंडल अधिकारियों के साथ हुई ऑनलाइन बैठक में एक बार फिर ट्रेन 12160/12159 अमरावती-जबलपुर-अमरावती एक्सप्रेस को रीवा तक विस्तार देने की मांग उठी. जवाब में मध्य रेल की ओर से बताया गया कि हम तैयार है लेकिन उक्त ट्रेन पश्चिम मध्य रेल जबलपुर मंडल के अधिकार क्षेत्र में दी गई है. ऐसे में टाइमिंग को लेकर व्यवस्था उनके हाथ में है. महाप्रबंधक संजीव मित्तल की उपस्थिति में हुई इस बैठक में राज्यसभा सांसद डा. विकास महात्मे ने यह मांग की. 

उन्होंने कहा कि भले ही कोरोना काल के चलते देशभर में केवल 230 स्पेशल यात्री ट्रेनें ही चलाई जा रही हो लेकिन रेल यात्रियों और रेलकर्मियों को अब भी पूरी उम्मीद है कि सबकी चहेती भारतीय ट्रेनें एक बार फिर पटरियों पर दौड़ती नजर आयेगी. ट्रेन 12160/21059 को लंबे समय से रीवा तक विस्तार करने की मांग जारी है. नागपुर समेत पूरे विदर्भ के उत्तर भारतीयों के लिए यह व्यवस्था वाराणसी और इलाहाबाद जैसे शहरों तक आसान रास्ता बनेगा. इस बारे में मध्य रेल नागपुर मंडल की ओर जवाब दिया गया कि उक्त ट्रेन का विस्तार पश्चिम मध्य रेल में प्रस्तावित है.

यदि मध्य रेल पर इस गाडी की समय सारिणी में कोई परिवर्तन नहीं किया गया तो इसका रीवा तक विस्तार करने में हमें कोई आपत्ति नहीं है. यह कार्य पश्चिम मध्य रेल द्वारा किया जायेगा. बताया गया कि अब रेलवे द्वारा वृहद स्तर पर जीरो बेस्ड टाइमटेबल का कार्य जारी है. इसके अलावा बैठक में नागपुर-नरखेड़ तीसरी लाइन को जल्द से जल्द पूरा करने, कलमेश्वर में गोंडवाना और दक्षिण एक्सप्रेस को स्टापेज देने, नरखेड-अमरावती रूट पर चांदुरबाजार स्टेशन पर खाद लोडिंग प्वाइंट बनाने जैस कई विषयों पर चर्चा की गई.

उपलब्धियों की जानकारी दी
वहीं, बैठम मे मंडल रेल प्रबंधक सोमेश कुमार ने नागपुर मंडल द्वारा प्राप्त की गई उपलब्धियों की जानकारी दी. बैठक में सांसद डा. महात्मे के अलावा रामदास तड़स, कृपाल तुमाने, दुर्गादास उइके, सुरेश धनोरकर के अलावा प्रधान मुख्य परिचालन प्रबंधक डीके सिंह, प्रधान मुख्य वाणिज्य प्रबन्धक मंजीत सिंह, मुख्य प्रशासनिक अधिकारी (निर्माण) मनोज शर्मा, प्रधान मुख्य अभियंता अश्विनी सक्सेना, उपमहाप्रबंधक दिनेश वशिष्ठ, अपर मंडल रेल प्रबंधक नागपुर मनोज  तिवारी, जय सिंह, अनूप कुमार सतपथी समेत अन्य वरिष्ठ रेल अधिकारियों की उपस्थिति रही.