corona
File Photo

  • 418 नये मरीज मिले
  • 09 की हुई मौत

नागपुर. कोरोना को लेकर भले ही सावधानी और सतर्कता कम होने लगी है, लेकिन अब भी मरीजों की संख्या कम होने का नाम नहीं ले रही है. डॉक्टर भी मान रहे हैं कि जनवरी में फिर से वायरस का अटैक बढ़ सकता है. इस बीच मंगलवार को जिले में 6,162 टेस्ट किये गये. इनमें 418 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई. यानी टेस्टिंग बढ़ने के साथ ही मरीजों की संख्या भी बढ़ गई.

प्रशासन द्वारा टेस्टिंग को लेकर ‘अप एंड डाउन’ जैसी स्थिति बनी हुई है. कभी 5,000 के भीतर तो कभी अधिक टेस्टिंग की जाती है. अधिक टेस्टिंग होने पर संक्रमितों की संख्या भी बढ़ने लगती है. मंगलवार को जिले में फिर से 418  नये मरीज मिले. इनमें से लक्षण वाले मरीजों को विविध अस्पतालों में भर्ती किया गया है.

वहीं जिनमें लक्षण नहीं दिखाई दे रहे हैं, उन्हें होम आइसोलेशन में रहकर उपचार की सलाह दी जा रही है, जबकि 9 मरीजों की मौत भी हो गई. इसके साथ ही अब तक जिले में कुल 3,813 मरीजों की जान कोविड की वजह से चली गई. फिलहाल ग्रामीण भागों में मृतक और संक्रमित दोनों की संख्या देखने को मिल रही है, जबकि सिटी में मरीजों के मिलने का सिलसिला सतत रूप से जारी है. 

अब भी जरूरी है सावधानी

फिलहाल जिले में 5,774 एक्टिव केस मौजूद हैं. पिछले सप्ताह की तुलना में एक्टिव केस भी बढ़ रहे हैं. अब तक कुल 8,61,013 लोगों की जांच की जा चुकी है. वहीं कुल पॉजिटिव मरीज 1,17,911 हो गये हैं. हालांकि राहत की बात यह है कि मंगलवार को 374 मरीजों को ठीक होने के बाद छुट्टी दिये जाने के बाद अब तक कुल 1,08,324 मरीज रिकवर हो चुके हैं. डॉक्टरों की मानें तो बदरीला मौसम एक बार फिर कोरोना के संक्रमण के लिए पोषक हो सकता है.

इस सीजन में सर्दी-जुकाम और खांसी आम है. वहीं बच्चों में पेट दर्द की भी शिकायत बढ़ रही है. यही वजह है कि बार-बार हाथ धोने की आदत को बनाए रखने की अपील की गई है. वहीं मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग भी अनिवार्य है. इन दिनों लोगों में लापरवाही बढ़ गई है. शादी-समारोह भी बढ़ने से लोगों की एक्टिविटी बढ़ी है. यदि सावधानी नहीं बरती गई तो जनवरी में फिर से संक्रमण का प्रभाव बढ़ सकता है.