nmc

  • 270 किलो पतली पॉलिथीन जब्त

नागपुर. राज्य सरकार ने 50 मायक्रान से कम सिंगल यूज प्लास्टिक पर पाबंदी लगाए जाने के बाद कुछ समय तक तो लगातार उत्पादनकर्ताओं और खरीदी-बिक्री में शामिल व्यापारियों के खिलाफ कार्रवाई होती रही है. बुधवार को उस समय अजीबोगरीब मामला उजागर हुआ, जब लंबे समय बाद उपद्रव शोध दल ने पतले पॉलिथीन की खरीदी-बिक्री के लिए छापामार कार्रवाई की. विशेषत: मनपा के काम्प्लेक्स में ही इसका अवैध कारोबार चल रहा था.

बताया जाता है कि सतरंजीपुरा जोन अंतर्गत मस्कासाथ में मनपा का कमर्शियल काम्प्लेक्स है. यहां के दूकान नंबर 12 में स्थित महालक्ष्मी ट्रेडर्स नामक दूकान में 50 मायक्रान से कम सिंगल यूज प्लास्टिक उपयोग में लाए जाने की भनक लगी थी. खबर लगते ही दस्ते ने दूकान पर दस्तक दी, जिसमें 270 किलो पॉलिथीन जब्त की गई. दस्ते ने प्रथम कार्रवाई होने के कारण दूकानदार अजय लाल से 5,000 रु. का जुर्माना वसूल किया.

अब तक वसूला गया 1 करोड़ से अधिक का जुर्माना

राज्य सरकार द्वारा प्रतिबंध लगाए जाने के बाद मनपा के उपद्रव शोध दल की ओर से 23 जून 2018 से प्लास्टिक निर्मूलन अभियान शुरू किया गया. अभियान के तहत सिटी में अब तक 2,048 दूकानदारों के खिलाफ कार्रवाई की गई, जिनसे 31,914 किलो प्रतिबंधित प्लास्टिक जब्त किया गया. कार्रवाई में 1.06 करोड़ का जुर्माना भी वसूला गया. विशेषत: अभियान में दस्ते की ओर से अब तक 47,607 दूकानों में तलाशी ली गई. शहर के सभी जोन में दस्तों की ओर से इस तरह से कार्रवाई को अंजाम दिया जा रहा है.