नायलॉन मांजा विक्रेताओं पर बड़ी कार्रवाई – कई स्थानों पर पतंगबाजों को भी पड़ा डंडा

  • 19 विक्रेता गिरफ्तार, लाखों का माल जब्त

नागपुर. जाटतरोड़ी परिसर में 3 दिन पहले एक छात्र को नायलॉन मांजे के कारण जान गंवानी पड़ी. इस घटना के बाद पुलिस आयुक्त अमितेश कुमार ने पूरी शहर पुलिस को नायलॉन मांजा विक्रेताओं के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए. गुरुवार को पुलिस ने बड़े पैमाने पर विक्रेताओं के खिलाफ कार्रवाई की. इसके अलावा कई स्थानों पर नायलॉन मांजे से पतंग उड़ाने वालों को भी डंडे पड़े. शहर भर में पतंग और मांजा विक्रेताओं की दूकानों में पुलिस ने जांच की. जिनके पास नायलॉन मांजा मिला उनके खिलाफ पर्यावरण संरक्षण अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया.

धंतोली, अंबाझरी, गणेशपेठ, राणाप्रतापनगर और कलमना पुलिस ने 2-2 विक्रेताओं के खिलाफ कार्रवाई की, जबकि गिट्टीखदान में 4, नंदनवन में 3, तहसील और कपिलनगर थाना क्षेत्र में 1 दूकानदार को मांजा बेचते पकड़ा गया. पाबंदी होने के बावजूद दूकानदार अपने लाभ के लिए जानलेवा नायलॉन मांजा बेच रहे है. शहर के मैदानों पर भी पुलिस की नजर थी. कई मैदानों पर तो युवाओं के पंतग उड़ाने पर ही रोक लगा दी गई, जबकि कुछ लोगों को नायलॉन मांजे से पतंग उड़ाते पकड़ने पर डंडे भी लगाए गए. जब तक नायलॉन मांजे की सप्लाई को रोका नहीं जाता तब तक शहर में हादसे होते रहेंगे. 

यवतमाल से धरा गया थोक विक्रेता 

एमआईडीसी पुलिस ने गोपनीय जानकारी के आधार पर एक युवक को नायलॉन मांजा बेचते गिरफ्तार किया. पूछताछ में उसने यवतमाल के थोक विक्रेता की जानकारी दी. तुरंत पुलिस दल ने यवतमाल जाकर होलसेलर को भी गिरफ्तार कर लिया. पकड़े गए आरोपियों में राजापेठ, हुड़केश्वर रोड निवासी दिनेश किशोर ढोरे (32) और मारवाड़ी चौक, यवतमाल निवासी बंटी नंदकिशोर सियोटिया (40) का समावेश है.

पुलिस को जानकारी मिली थी कि हिंगना रोड पर बब्बू होटल के सामने एक युवक दुपहिया वाहन पर नायलॉन मांजा बेच रहा है. पुलिस ने तुरंत मौके पर पहुंचकर दिनेश को हिरासत में लिया. उससे नायलॉन मांजे की 10 चकरी जब्त की. विक्रेता के बारे में पूछताछ करने पर उसने बंटी का नाम बताया. 

1.63 लाख रुपये की 461 रील

यवतमाल के मारवाड़ी चौक पर बंटी की बड़ी दूकान होने की जानकारी मिली. पुलिस ने बंटी की दूकान और गोदाम में छापा मारकर उसे गिरफ्तार किया. तलाशी के दौरान पुलिस को अलग-अलग ब्रांड के 461 रील नायलॉन मांजा बरामद हुआ. बंटी को गिरफ्तार कर नागपुर लाया गया. कुल 1.63 लाख रुपये का माल पुलिस ने जब्त किया है. बंटी ने माल किससे खरीदा इसका पता लगाया जा रहा है. डीसीपी सारंग आवाड़ और एसीपी अशोक बागुल के मार्गदर्शन में इंस्पेक्ट युवराज हांडे, पीएसआई कैलाश कुथे, हेड कांस्टेबल बाला साकोरे, विनायक मुड़े, मंगेश गवई, धर्मेंद्र यादव, रितेश मलगुलवार, प्रवीण पलके, नागेश दासरवार और फइम खान ने कार्रवाई को अंजाम दिया. 

32 लोग हुए जख्मी 

शहर के अलग-अलग स्थानों पर 32 लोग मांजे की वजह से जख्मी हो गए. यह आंकड़ा और ज्यादा बढ़ सकता है. मेडिकल अस्पताल में मांजे से जख्मी हुए 15 लोगों ने उपचार लिया, जबकि 7 लोगों पर मेयो अस्पताल में उपचार किया गया. अन्य ने निजी अस्पतालों में उपचार लिया. यह आंकड़ा शाम 5 बजे तक सामने आया. इसके बाद भी कई लोगों के जख्मी होने की संभावना है.