5 दूकानों पर चला बुलडोजर – कार्रवाई को लेकर दूकानदारों का जमकर हंगामा

नागपुर. शुक्रवार की दोपहर गांधीबाग जोन में उस समय हंगामा खड़ा हो गया, जब मनपा के प्रवर्तन विभाग का दस्ता दल-बल के साथ कार्रवाई के लिए हज हाउस के पास पहुंच गया. बताया जाता है कि हज हाउस के पास के नाले पर 5 लोगों ने अवैध रूप से दूकानों का निर्माण किया था, जिसे लेकर जोन की ओर से दूकानदारों को स्वयं अनधिकृत निर्माण हटाने के लिए चेतावनी दी गई थी. किंतु दूकान नहीं हटाई गई. शुक्रवार को जैसे ही दस्ता पहुंचा, दूकानदारों ने जमकर विरोध करना शुरू कर दिया.

इसकी पहले से आशंका के चलते दस्ते ने पुख्ता सुरक्षा बंदोबस्त भी रखा हुआ था जिससे विरोध के बीच ही दस्ते ने इन अनधिकृत दूकानों पर बुलडोजर चलाना शुरू कर दिया. इसके बाद इन सभी 5 दूकानों को ध्वस्त कर दिया गया. इसी तरह लोहा ओली बाजार स्थित मधुबन बैंक के पास शेख हाजी अब्दुल रज्जाक नामक सम्पत्तिधारक ने हाईटेंशन लाइन के नीचे अनधिकृत रूप से निर्माण कार्य कर रखा था. दस्ते ने हाईटेंशन लाइन के दायरे में आनेवाले निर्माण कार्य को तोड़ दिया. 

7 सम्पत्तियों पर गिरी गाज

मनपा प्रवर्तन विभाग की ओर से धरमपेठ जोन में भी दस्तक दी गई. हाईटेंशन लाइन के दायरे में आनेवाले अनधिकृत निर्माण कार्य को 15 दिनों के भीतर साफ करने का अभियान शुरू किया गया है, जिसमें अन्य जोन की तरह दस्ते ने धरमपेठ जोन में भी अंजाम दिया. यहां पर दीपक बीसेन, वन, पटेल, शोभा फाले, प्राची पांडे, गौतमबाई, डोभले ज्वेलर्स, वसंत आदि ने हाईटेंशन लाइन के दायरे में अनधिकृत रूप से निर्माण कर रखा था.

इन सभी सम्पत्तिधारकों को हाई कोर्ट द्वारा दिए गए आदेश का हवाला देते हुए काफी पहले ही नोटिस जारी किया गया था. इसके बावजूद सम्पत्तिधारकों द्वारा स्वयं अनधिकृत निर्माण नहीं निकाला गया, जिससे दस्ते ने कार्रवाई कर इन 7 निर्माण कार्यों को तोड़ दिया. कार्रवाई में उपायुक्त महेश मोरोणे, प्रकाश वराडे, अशोक पाटिल, प्रवर्तन निरीक्षक संजय कांबले के मार्गदर्शन में राठोड, सपाटे, फालके, भास्कर मालवे, सुनील बावने, शादाब खान, आतिश वासनिक और विशाल ढोले ने हिस्सा लिया.