प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर

नागपुर. बुधवार की दोपहर भांडे प्लॉट, ताजबाग और दिघोरी परिसर के दूकानदार और अतिक्रमणकारियों में उस समय खलबली मच गई, जब मनपा के प्रवर्तन विभाग का दस्ता कार्रवाई के लिए दल-बल के साथ पहुंच गया. जैसे ही दस्ता नेहरूनगर जोन अंतर्गत भांडे प्लॉट चौक पर पहुंचा, चौराहे के चारों ओर फुटपाथ पर अतिक्रमण कर बैठे छोटे-छोटे दूकानदारों में भागा-दौड़ी मच गई. सामान बचाकर अतिक्रमणकारी गलियों में गायब हुए. इसी बीच दस्ते ने कार्रवाई का सिलसिला जारी रखा. बताया जाता है कि यहां के दूकानदारों ने फुटपाथ पर शेड तैयार कर लिए थे. दस्ते ने इन शेड पर बुलडोजर चलाना शुरू कर दिया. एक के बाद एक कुल मिलाकर 20 शेड्स पर बुलडोजर चलाया गया. 

ताजबाग में विरोध का प्रयास

भांडे प्लॉट चौक पर कार्रवाई के बाद दस्ता ताजबाग परिसर पहुंचा जहां पर दस्ते को देखते ही दूकानदार विरोध करने के लिए एकजुट हो गए, किंतु पहले भी कई बार पुन: अतिक्रमण करने पर कड़ी कार्रवाई करने की चेतावनी दस्ते की ओर से दी गई थी जिससे दस्ते ने पहुंचते ही कार्रवाई शुरू कर दी. विरोध को दरकिनार कर कार्रवाई को आगे बढ़ाते हुए दस्ता दिघोरी फ्लाईओवर के नीचे पहुंच गया. फ्लाईओवर के नीचे भी कुछ दूकानदारों द्वारा अतिक्रमण किया गया था. दस्ते को देखते ही यहां के अतिक्रमणकारी भाग गए. कार्रवाई के दौरान दोनों ओर के फुटपाथों पर से सब्जी वाले, फल विक्रेता, नारियल पानी के ठेले आदि मिलाकर कुल 32 अतिक्रमणों का सफाया किया गया. 

अनधिकृत निर्माण पर गाज

एक ओर मनपा के प्रवर्तन विभाग के दस्ते ने नेहरूनगर जोन में कार्रवाई की, वहीं दूसरी ओर मंगलवारी जोन में अन्य दस्ते द्वारा कार्रवाई को अंजाम दिया गया. मंगलवारी जोन अंतर्गत विजयनगर में पूर्णिमा नंदेश्वर नामक सम्पत्तिधारक की ओर से अनधिकृत रूप से सीढ़ियों का निर्माण किया गया था, जिसे लेकर जोनल कार्यालय की ओर से पहले ही नोटिस जारी किया गया था. नोटिस के बावजूद सम्पत्तिधारक की ओर से स्वयं अनधिकृत निर्माण नहीं हटाया गया. इस पर दस्ते ने बुधवार को पहुंचकर सीढ़ियां तोड़ दीं. कार्रवाई में प्रवर्तन विभाग उपायुक्त महेश मोरोणे, प्रवर्तन निरीक्षक संजय कांबले के मार्गदर्शन में मनीष भोयर, पी.के. गिरी, आतिश वासनिक, विशाल ढोले आदि ने हिस्सा लिया.