arrest

  • मेडिकल स्टोर में लगाते है सेंध

नागपुर. शहर के अलग-अलग इलाकों मेडिकल स्टोर्स में सेंध लगाने वाले चंद्रपुर के सेंधमार गिरोह को सक्करदरा पुलिस ने पकड़ लिया. आरोपी शहर की 6 और चंद्रपुर की 1 दूकान में सेंध लगा चुके है. विशेष रूप से यह टोली मेडिकल स्टोर को ही टार्गेट करती है. पकड़े गए आरोपियों में पंचशील चौक,चंद्रपुर निवासी आकाश उर्फ शानू लालू महतो (26), नगीनाबाद, सिस्टर कालोनी, चंद्रपुर विशाल सुधीर पाटिल (20) और उनके नाबालिग साथी का समावेश है.

कबीरनगर निवासी यशवंत रोकड़े सक्करदरा के सत्यम मॉल के बगल में अवंतिका मेडिकल स्टोर चलाते है. 22 सितंबर की रात दूकान बंद करके घर गए. दूसरे दिन सुबह पड़ोसी ने फोन करके दूकान का शटर खुला होने की जानकारी दी. यशवंत जांच करने गए तो चोरी का पता चला. गल्ले में रखे 22,000 रुपये गायब थे.

उन्होंने पुलिस से शिकायत की. मामला दर्ज करते ही पुलिस जांच में जुट गई. आस-पास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली गई, जिसमें तीनों आरोपी दिखाई दिए. पुलिस को जानकारी मिली कि मेडकल स्टोर्स को निशाना बनाने वाली चंद्रपुर की टोली शहर में सक्रिय है. खबर के आधार पर पुलिस ने तीनों को हिरासत में लिया.

7 वारदातों का किया खुलासा
जांच के दौरान सक्करदरा के अलावा सोमवारी क्वार्टर के अमृत फार्मसी, इमामवाड़ा के जैनेरिक मेडिकल स्टोर, अजनी के पारस मेडिकल स्टोर, प्रतापनगर के फर्स्ट मेडिकल स्टोर और सोनेगांव के दत्ता मेडिकल स्टोर में सेंध लगाने की कबूली दी. आरोपियों ने चंद्रपुर के पठानपुरा इलाके से एक दुपहिया वाहन चोरी किया था. इसी वाहन से तीनों नागपुर आए थे और वारदातों को अंजाम दे रहे थे. न्यायालय ने आरोपियों को 29 सितंबर तक पुलिस हिरासत में रखने के आदेश दिए है.

डीसीपी विवेक मासाळ और एसीपी विजय धोपावकर के मार्गदर्शन में इंस्पेक्टर सत्यवान माने, चंद्रकांत यादव, एपीआई सागर आव्हाड़, पीएसआई दीपक म्हाडिक, एएसआई मधुकर टुले, हेड कांस्टेबल गुरपुड़े, संदीप बोरसरे, नितिन राउत, हेमंत उइके, विद्याधर पवनीकर, रोहन चौधरी, निलेश शेंदे और साइबर ब्रांच के दीपक तार्हेकर ने कार्रवाई को अंजाम दिया.