Nagpur Bus Stand, Ganeshpeth, Nagpur

  • सामान्य लोगों की संख्या कम, खड़ी रहीं एसटी

नागपुर. सोमवार को सामान्य यात्रियों के लिए एसटी की सेवा शुरू हो गई. सुबह 7 बजे से लेकर 10 बजे तक यात्रियों की संख्या बेहतर रही. लेकिन दोपहर बाद यात्रियों की संख्या कम हो गई. हालांकि एसटी बस स्टैंड से 1 जून के बाद पहली बार 398 बसें चलीं. लेकिन यात्रियों के लिए बसों को घंटों इंतजार करना पड़ा. हर एक बस को भरने के लिए एक से दो घंटे लगे, उसके बाद ही बसें भर सकी और यात्रियों ने सफर किया. सोमवार को बस स्टैंड पर यात्रियों की भीड़ नजर आई. लेकिन शाम होते-होते बस स्टैंड पर सन्नाटा पसर गया था. एसटी से यात्रा करने वाले यात्रियों को हर जगह के लिए बसें मिलीं. बस स्टैंड पर यात्रियों द्वारा लापरवाही भी देखी गई. यात्रियों ने कोरोना के नियमों का जमकर उल्लंघन किया. जिसे देखने वाला भी कोई नहीं था.

400 के पास पहुंचीं बसों की फेरियां

लॉकडाउन लगने के बाद से ही एसटी बस स्टैंड से 20 से 30 फेरियां चल रही थीं.  लेकिन सोमवार को जैसे ही बस स्टैंड सामान्य यात्रियों के लिए अनलॉक हुआ तो बसों की फेरियां भी बढ़ गईं. पहले ही दिन एसटी से 400 फेरियां बसों की चलीं. 1 जून से जहां बसों की 140 से 150 फेरियां चल रही थीं यह सोमवार से सीधे दोगुनी हो गई. बताया जा रहा है कि आने वाले दिनों में एसटी बस स्टैंड में यात्रियों की संख्या में और ज्यादा बढ़ोतरी हो सकती है. 

चार गुना बढ़ गए यात्री

लॉकडाउन खुलने के बाद एसटी बस स्टैंड से यात्रा करने वाले यात्रियों की संख्या में काफी बढ़ोतरी देखी गई है. सोमवार को बस स्टैंड पर पहली हजारों की संख्या में यात्री पहुंचे. यह दिनभर में पहुंचे यात्रियों की संख्या है जो विभिन्न जगहों पर यात्रा करने के लिए बस स्टैंड पहुंच थे. बस स्टैंड पर हर बस के लिए यात्रियों को लंबा इंतजार करना पड़ा. हालांकि सभी जगह के लिए यात्रियों को बसें मिल गई.

नियमों की उड़ीं धज्जियां

बस स्टैंड पर यात्रा करने की मिली छूट का यात्रियों ने भी गलत फायदा उठाया. यात्रियों की लापरवाही बस स्टैंड पर साफ देखने मिली. कई यात्रियों ने मास्क नहीं लगाया था. वहीं कुछ यात्रियों ने जो मास्क लगाया था वह भी सही नहीं था. वहीं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए भी बस स्टैंड पर किसी जिम्मेदार की ड्यूटी नहीं लगाई गई थी. बस स्टैंड पर पहले ही दिन नियमों की धज्जियां उड़ाई गईं.

हर जगह से पहुंचीं बसें

अनलॉक होते ही नागपुर के एसटी बस स्टैंड पर जिले के सभी बस स्टैंड से बसें पहुंचीं. जिसमें भंडारा, गोंदिया, अमरावती, चंद्रपुर समेत अन्य जिलें शामिल थे. यात्रियों को छूट मिलते ही महीनों से अपने कार्यों को टालने वाले लोग बस स्टैंड पर यात्रा करने पहुंचे. यात्रियों के चेहरे पर खुशी देखी गई. लोग यात्रा करने के साथ-साथ अपने गांव भी वापस लौटे.