crime

  • नागपुर में छोड़ भागे आरोपी, मांगी थी 50 लाख की फिरौती

नागपुर. राजनांदगांव से एक व्यापारी पुत्र के अपहरण कर आरोपी उसे नागपुर ले आए. लेकिन पुलिस द्वारा पीछा किए जाने की भनक लगते ही अपहरणकर्ता उसे नागपुर में छोड़कर फरार हो गए. राजनांदगांव की पुलिस अपहृत किशोर को नागपुर से वापस राजनांदगांव ले गई. अपहृत किशोर ग्रीनवैली, भिलाई निवासी गुरप्रीत बलजीतसिंह सेठिया (16) बताया गया.

बलजीत राजनांदगांव के सोमनी क्षेत्र में फेमस पंजाब ढाबा चलाते है. शनिवार की रात गुरप्रीत अपने दोस्तों के साथ ढाबे पर भोजन करने गया था. इसी दौरान कार में सवार 4 आरोपियों ने उसका अपहरण कर लिया.

20 मिनट बाद अपहरणकर्ताओं ने गुरप्रीत की मां को फोन कर 50 लाख रुपये की फिरौती मांगी. इस खबर से छत्तीसगड़ पुलिस के भी हाथ-पैर फूल गए. गुरप्रीत की तलाश में 4 टीमें गठित की गई. इसी बीच पुलिस ने मोबाइल के टावर लोकेशन ट्रेस कर आरोपियों का पीछा शुरु कर दिया.

किसी परिचित व्यक्ति द्वारा अपहरण किए जाने का अनुमान पुलिस को था. आरोपियों को पता लग गया कि पुलिस उनका पीछा कर रही है. आरोपी गुरप्रीत को नागपुर में छोड़कर फरार हो गए. पीछा कर रहा पुलिस दल गुरप्रीत तक पहुंच गया और उसे वापस राजनांदगांव ले जाया गया. बताया जाता है कि इस प्रकरण में 1 आरोपी ने भिलाई पुलिस के सामने सरेंडर भी किया है. आईपीएल सट्टे के पैसों के लेन-देन में गुरप्रीत का अपहरण किए जाने की जानकारी है.