Fear of accident due to bad roads

नागपुर. सदर फ्लाईओवर पर बुधवार की दोपहर उस समय हड़कंप मच गया जब पुल पर एक तेज रफ्तार कार डिवाइडर से टकराने के बाद पलट गई. गनीमत रही कि इस भीषण दुर्घटना में किसी भी व्यक्ति को कोई हानि नहीं पहुंची. घटना दोपहर करीब 2 बजे की है. वहां मौजूद ट्रैफिक पुलिसकर्मियों ने पलटी कार में से चालक और एक व्यक्ति को बाहर निकालकर उपचार के लिए अस्पताल रवाना किया. हादसे में 2 व्यक्तियों को मामूली चोटें आईं. उस समय पुल पर कार के आसपास कोई टूव्हीलर नहीं था, अन्यथा कोई भयानक हादसा हो सकता था.

हो सकता था भयानक हादसा

ट्रैफिक पुलिस पुल के नीचे यातायात नियमों का उल्लंघन करनेवाले वाहन चालकों पर कार्रवाई कर रही थी. इस दौरान कार क्रमांक एमएच 31 ईयू 0140 काटोल रोड से आरबीआई की ओर आ रही थी. कार की रफ्तार बेहद तेज थी. आरबीआई चौक की लैडिंग के पास ओवरटेक करने के चक्कर में कार सीधे डिवाइडर से जा टकराई. टक्कर इतनी जोरदार थी कि कार 2 बार पलटी खाने के बाद सुरक्षा दीवार से टकराकर सड़क पर आड़ी हो गई. हादसे के बाद वहां मौजूद पुलिसकर्मी तुरंत उनकी मदद के लिए दौड़े. उन्होंने कार का दरवाजा खोलकार 2 व्यक्तियों को बाहर निकाला. इस दौरान कुछ देर के लिए पुल पर ट्रैफिक जाम भी लग गया था, लेकिन जल्द ही पुलिसकर्मियों ने सुचारु रूप से यातायात शुरू कर दिया. थोड़ी ही देर में टोइंग वैन की मदद से कार को पुल से हटाया गया. 

पुल पर हो रही रैश ड्राइविंग

सदर पुल पर वाहनों की रफ्तार पर कोई काबू नहीं है. पुल चौड़ा होने के कारण कई वाहन चालक रैश ड्राइविंग कर रहे हैं. पुल पर रैश ड्राइविंग के कारण होने वाली यह दूसरी दुर्घटना है. इसके पहले मानकापुर मार्ग पर पुल पर ही एक कार ने टूव्हीलर पर जा रही एक महिला को उड़ा दिया था. पुल के नीचे गिरने से उसकी मौत हो गई थी. कुछ दिनों तक पुलिस पुल पर स्पीड व्हीकल लगाकर कार्रवाई करने लगी थी, लेकिन कार्रवाई में ढील देते ही यहां से फिर ओवर स्पीडिंग शुरू हो गई. हर दिन सुबह शाम कई वाहन 80 से भी अधिक स्पीड से गुजरते हैं. फ्लाईओवर पर हादसों की संख्या तेजी से बढ़ती जा रही है.