Mahavitaran gave 71 thousand connections in Vidarbha in lockdown

    नागपुर. महावितरण द्वारा बिजली के बकायादारों और बिजली चोरों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का अभियान चलाया जा रहा है. जिन बकायादारों की बिजली काटने की कार्रवाई की जा रही है उनमें के अनेक ग्राहकों द्वारा बिजली के तार में सीधे ‘अकोड़े’ डालकर बिजली चोरी की जा रही है. ऐसे बिजली चोरों के खिलाफ अब महावितरण द्वारा कड़ा कदम उठाते हुए सीधे पुलिस में मामला दर्ज करने की कार्रवाई की जा रही है. गुरुवार को ऐसे ही बिजली चोरों के खिलाफ कलमना थाने में मामला दर्ज करवाया गया. 

    2.23 लाख का बकाया

    बताया गया कि महावितरण के सहायक अभियंता अक्षय कोंबाडे की टीम कार्यकारी अभियंता राहुल जीवतोडे के आदेशानुसार बेलेनगर, कामनानगर परिसर में बिल बकायादार ग्राहकों से वसूली अभियान चला रहे थे. इसी दौरान परिसर में रहने वाले ग्राहक अतीक सिद्दीकी द्वारा बिजली के तार में अकोड़ा डालकर बिजली चोरी का मामला नजर आया. अतीक पर 2.23 लाख रुपये का बिल बकाया होने से मार्च में बिजली कनेक्शन काटने की कार्रवाई की गई थी.

    लेकिन उसके बाद उसने बकाया जमा के बदले नर्गिस नामक महिला से मिलीभगत कर बिजली के तार में अकोड़ा डालकर घर की बिजली शुरू कर ली थी. कोंबाडे ने जब यह देखा तो कलमना थाने में दोनों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया. मुख्य अभियंता दिलीप दोडके ने ग्राहकों से अपील की है कि अगर उनके घर बिजली कनेक्शन काटने की कार्रवाई हुई है तो वे बकाया बिल का भुगतान करवाकर बिजली सुचारु करवाएं. अनधिकृत तौर पर बिजली जोड़ने पर बिजली चोरी का मामला दर्ज किया जाएगा.