सब्जियों की तरह ट्रक में ठूंसे मवेशी

  • दम घुटने से 2 बैल मरे, केलोद पुलिस ने 52 को बचाया

नागपुर. केलोद पुलिस ने बीते गुरुवार की दोपहर मध्यप्रदेश की ओर से नागपुर की ओर आ रही गोवंश की भारी खेप को पकड़कर आरोपियों को गिरफ्तार किया. यह खेप भोपाल के व्यवसायी अमीर रईद कुरैशी (35) और सलमान रईस कुरैशी (25) दोनों जहांगीराबाद भोपाल निवासी ने आदिलाबाद आंध्रप्रदेश के लिए रवाना की थी. इस ट्रक में गोवंश को सब्जियों की तरह ठूंसकर भरने से दो बैलों की दम घुटकर मौत हो चुकी थी.

बीते गुरुवार की दोपहर केलोद थाने के थानेदार सुरेश मट्टामी को मध्यप्रदेश की ओर से गोवंश की बड़ी खेप आने की जानकारी मिली थी. इस सूचना पर केलोद पुलिस की टीम ने राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक 47 पर उमरी गांव के पास नाकेबंदी की. दोपहर 1 बजे पांढुरना की ओर से दस चक्का संदिग्ध ट्रक क्रमांक पीबी-08 / बीएन 5277 आते दिखाई दिया. पुलिस द्वारा ट्रक चालक को रुकने का संकेत देने पर उसने ट्रक की गति तेज कर दी और नागपुर की ओर बेपरवाही से अंधाधुंध कंटेनर दौड़ाने लगा.

पुलिस ने इसका पीछा किया तो ट्रक चालक ने बिहाड़ा रोड से भागेमाहेरी, हेटी और सावनेर बाईपास में प्रवेश किया. इस मार्ग में नागरिकों की जगह-जगह भीड़ होने के कारण चालक को कंटेनर की गति धीमी करनी पड़ी. इस दौरान पुलिस ने उसे सामने से आकर रुकवाया. ट्रक की जांच करने पर इस ट्रक में गोलू उर्फ गोविंद खुमानसिंह लोधी (28) रायसेन एमपी, अफजल रईस कुरैशी (38) भोपाल और लुकमान चांद खान हरिमाबाद (19) ये तीनों ट्रक के कैबिन में बैठे थे. ट्रक का डाला खोलने पर इसके भीतर बड़ी निर्दयता के साथ ठूंसकर 54 गाय, बछड़े, बैल गोवंशीय प्राणी भरे हुए पाए गाए. पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर गोवंश को मुक्त कराया और ट्रक सहित कुल 20, 40,000 रुपए का माल जब्त किया.