मध्य रेल नागपुर मंडल तेज हुआ माल लदान का काम

नागपुर. भले ही रेलवे को यात्री परिवहन में नुकसान सहना पड़ रहा हो लेकिन माल लदान ने एक बार फिर जोर पकड़ लिया है. इसी के तहत मध्य रेल के नागपुर मंडल ने भी तेजी से काम शुरू कर दिया है. हाल ही में कार्यरत हुए अजनी गुड्स शेड से फाथुआ के लिए महिन्द्रा ट्रैक्टरों से भरी एक रैक रवाना की गई.

इससे मंडल को कुल 12.78 लाख रुपये की आय हुई. इससे पहले कम्पनी द्वारा अपने ट्रैक्टर सड़क मार्ग से भेजे जाते थे लेकिन नागपुर मंडल के कमर्शियल विभाग के प्रयासों से यह कार्य पहली बार रेलवे को मिला. इससे पहले पंजाब के फिल्लौर के लिए भी एक ट्रैक्टरों की एक रैक भेजी जा चुकी है. इससे जहां ट्रैक्टरों के परिवहन में डीजल की खपत की बचत हुई, वहीं बिना कार्बन उत्सर्जन के पर्यावरण अनुकुल परिवहन भी संभव हुआ.

CR : अभी तक 61,978 टन पार्सल का लदान
वहीं, मध्य रेल द्वारा लाकडाउन और अनलॉक की वर्तमान अवधि तक चरणबद्ध तरीके से कुल 61,978 टन पार्सल लदान किया गया. इसमें पेरिशबल्स, दवाएं, फार्मा उत्पाद, खाद्य पदार्थ और अन्य हार्ड पार्सल शामिल हैं. ज्ञात हो कि कोरोना के कारण लागू किये गये लॉकडाउन में रेलवे ने नागरिकों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए स्पेशल पार्सल ट्रेनें चलाई थी जो अब भी जारी है. मध्य रेल के तहत लाकडाउन में 465 पार्सल ट्रेनों का परिचालन किया गया है, जिसमें कुल 38,618 टन आवश्यक वस्तुएं शामिल हैं. वहीं, अनलॉक में 19,290 टन पार्सल भेजा गया. इस प्रकार कुल 61,978 टन पार्सल भेजे हैं. इनमं विशेष ट्रेनों के पार्सल वैन में 19,290 टन, दूध टैंकर 1,804 टन और किसान रेल में 2,266 टन माल भेजा गया है.