MCOCA

  • 21 मामले, 572 पेज का आरोपपत्र

नागपुर. करीब 6 महीने पहले नकली पुलिस बनकर वृद्धा से चेन स्नैचिंग के मामले में गिरफ्तार 7 आरोपियों पर शहर पुलिस ने मोका के तहत कार्रवाई की. पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ 21 मामलों का खुलासा कर 572 पेज का आरोपपत्र दाखिल किया. आरोपियों के नाम हैदर अली युसुफ अली (30), मोसीन रज गुलाम रजा (32), युसुफ अली अमीर अली (37), जासिम अली मंकहंदी अली (52), मोहम्मद ओवेस मोहम्मद शाही (19), शब्बीर अली सलीम अली (33) और नादिर जैदी तालिब अली (42) है. सभी न्यू कामठी थाना क्षेत्र में येरखेड़ा परिसर निवासी है.

जांच में मिला बड़ा गिरोह

मिली जानकारी के अनुसार 13 सितंबर 2020 को सुबह करीब 6.30 बजे दहीबाजार ओवर ब्रिज पर लालगंज खैरीपुरा निवासी बेबीबाई नेमदेव लक्षणे (60) से काली रंग की बाइक पर आये 2 युवकों ने सोने की चेन छीनकर भाग गये. मामला दर्ज होने पर पुलिस ने जांच के साथ जब आरोपियों की गिरफ्तारी शुरू की तो हैरानी भरी जानकारियां मिली. पता चला कि ये 2 लोगों का काम नहीं, बल्कि 7 लोगों को एक गिरोह है. आरोपियों ने जिले समेत राज्य के अन्य शहरों में भी इन्होंने नकली पुलिस बनकर कई लोगों के साथ ठगी और चेन स्नैचिंग की वारदातें की हैं.

पुलिस को जांच में आरोपियों के खिलाफ नागपुर शहर के अलावा नागपुर ग्रामीण, औरंगाबाद, नाशिक, कोल्हापुर, चंद्रपुर, धुले और दिल्ली जैसे बड़े शहरों में भी नकली पुलिस बनकर लोगों को बरगलाते हुए उनके कीमती गहने छीने या चोरी किये हैं. आरोपियों के खिलाफ ऐसे 21 मामलों का पता चला. अभी सारे आरोपी जेल में हैं. उनके खिलाफ पुलिस ने 572 पेज की चार्जशीट फाइल की. उक्त कार्रवाई शहर पुलिस आयुक्त अमितेश कुमार, अपर पुलिस आयुक्त सुनील फुलारी और डीसीपी राजमाने के मार्गदर्शन में एसीपी सुधीर नंदनवार द्वारा पूरी की गई.