Chanda Thakur

  • दर्ज है 50 से ज्यादा मामले

नागपुर. नशीले पदार्थों की तस्करी और बिक्री को लेकर शहर में चर्चित चंदा ठाकुर को आखिर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. चंदा के खिलाफ शहर में 50 से ज्यादा मामले दर्ज होने की जानकारी मिली है. लंबे समय से वह नशीले पदार्थों की बिक्री में सक्रिय है. शांतिनगर में उसका बड़ी अड्डा है. ऐसा कोई नशीला पदार्थ नहीं है जो चंदा बेचती न हो. उसके अड्डे पर गांजा, गर्द, एमडी और शराब बेची जाती थी. कई बार पुलिस उसके अड्डे पर छापा मार चुकी है.

चंदा पुलिस पर हमला करने से भी नहीं कतराती. उसके खिलाफ सराकारी काम में बाधा निर्माण करने के मामले भी दर्ज है. लॉकडाउन के दौरान भी पुलिस ने चंदा के अड्डे पर छापा मारकर बड़े पैमाने पर शराब जब्त की थी, लेकिन वह फरार हो चुकी थी. कई दिनों से पुलिस उसकी खोज में जुटी हुई थी.

डीसीपी गजानन राजमाने को जानकारी मिली कि चंदा का दूसरा घर कलमना क्षेत्र में है. चंदा वहीं छिपी हुई है. उन्होंने तुरंत यूनिट 3 को काम पर लगाया. इंस्पेक्टर विनोद चौधरी के नेतृत्व में एक टीम ने चंदा के दूसरे घर में छापा मारा, लेकिन घर में बाहर से ताला लगा था. पुलिस को पक्की जानकारी थी कि चंदा घर में ही है. उसे बाहर आने के लिए कहा गया, लेकिन कोई जवाब नहीं मिला. आखिर पुलिस ने ताला तोड़कर घर के भीतर प्रवेश किया. चंदा शौचालय में छिपकर बैठी थी. उसे आगे की कार्रवाई के लिए एनडीपीएस सेल को सौंपा गया है.