Bad Road, Potholes

  • नागरिकों से फोटो भेजने की अपील

नागपुर. शहर की खस्ताहाल और गड्ढों से पटी सड़कों की स्थिति जनप्रतिनिधियों के सामने रखने के लिए नागपुर सिटीजन्स फोरम ने ‘गड्ढे मुक्त शहर’ अभियान शुरू किया है. इसके तहत फोरम द्वारा नागरिकों से व्हाट्सएप नंबरों पर अपने क्षेत्र की खराब सड़कों और गड्ढों की तस्वीरें भेजने की अपील की है. इसके लिए फोरम ने मोबाइल नंबर 9730196885 तथा 9637839502 जारी किये हुए है.

सीमेंटीकरण के चक्कर में डांबरीकरण भी खराब

फोरम के गजेन्द्र सिंह लोहिया ने कहा कि इस अभियान का मुख्य उद्देश्य शहर की सड़कों की दशा में सुधार और गड्ढेमुक्त करना है. शहर में महानगर पालिका, पीडब्ल्यूडी व एनएएचआई की सड़कें हैं. लेकिन रखरखाव में लापरवाही होने से सड़कों की दुर्दशा हो गई है. मनपा द्वारा कोई नियोजन नहीं किया जा रहा है. वहीं, पिछले 10 वर्षों से शहर की सड़कों के सीमेंटीकरण के नाम पर पहले से बनी सड़कों का डांबरीकरण भी खराब कर दिया है.

सीमेंड रोड की ऊंचाई अधिक होने से बारिश में सड़कों का पानी घरों में घुस जाता है. मनपा द्वारा आधेअधूरे सीमेंट रोड बनाकर इसके बगल में लगने वाले गट्टूओं बिखरे पड़े हुए हैं. गट्टू और सीमेंट रोड निर्माण में हुए निकृष्ट काम के चलते जहां-तहां गड्ढे हो गये हैं. वहीं, जहां भी डांबरी सड़कें बनाने में भी हाटमिक्स का उपयोग ना किये जाने से कुछ ही दिनों में रास्ते खराब हो रहे हैं. इससे शहर में दुर्घटनायें बढ़ रही हैं और नागरिकों की जानें जा रही है. 

मनपा आयुक्त, महापौर के सामने रखेंगे वास्तविकता

फोरम के इस अभियान को पहले ही दिन लोगों का प्रतिसाद मिलना शुरू हो गया और 150 से अधिक सड़कों के गड्ढों की फोटो मिली. फोरम की ओर से बताया गया कि पहले जनता द्वारा भेजी गई गड्ढों की फोटो को सोशल मीडिया पर वायरल किया जायेगा और फिर मनपा आयुक्त राधाकृष्णन बी. व महापौर संदीप जोशी को निवेदन देकर गड्ढों को सुधारने की मांग की जायेगी. यदि इसके बाद भी रास्तों की हालत नहीं सुधरी तो मनपा कार्यालय के बाहर गड्ढों की तस्वीरों वाले फ्लैक्स लगाकर प्रदर्शन किया जायेगा. इसके अलावा शहर ही जानलेवा सड़कों को नगरसेवकों, जनप्रतिनिधियों व प्रशासनीक अधिकारियों को नाम दिया जायेगा.