9,27,000 new cases of Covid-19 were reported in Europe in a week
File Photo : PTI

नागपुर. कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है. गुरुवार को फिर जिले में 452 नये संक्रमित मिले. इनमें 399 सिटी के और 52 ग्रामीण भागों के हैं. वहीं गुरुवार को फिर 8 की मौत हो गई. इनमें 5 सिटी के, 2 ग्रामीण भागों के और 1 जिले के बाहर का है. अब तक जिले में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 1,10,332 हो गई है. वहीं मरने वालों की संख्या 3628 हो गई है. मरने वालों में अकेले नागपुर सिटी के 2,515 शामिल हैं वहीं सिटी के 87,153 अब तक पॉजिटिव पाए गए हैं.

यह संख्या बढ़ती ही जा रही है और इसका मुख्य कारण अब नागरिकों द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करना बताया जा रहा है. सरकार व विशेषज्ञों का कहना है कि कोरोना की दूसरी लहर और भी विकराल हो सकती है इसलिए जब तक दवाई नहीं आ जाती तब तक किसी भी प्रकार की ढिलाई जानलेवा साबित हो सकती है. इसलिए कोविड-19 के सभी दिशानिर्देशों का पालन कड़ाई से करना अनिवार्य है.

4,815 एक्टिव केसेस

दिवाली के ठीक पहले तक जिले में एक्टिव मरीजों की संख्या 3,000 से नीचे पहुंच गई थी लेकिन दिवाली उत्सव के बाद यह तेजी से बढ़े हैं. अब जिले में 4,815 एक्टिव केस हैं जिनमें 4,243 सिटी के हैं और 572 ग्रामीण भागों के. इसमें से अधिकतर का इलाज विविध अस्पतालों में चल रहा है. सर्दी बढ़ने के चलते जिले में सर्दी-जुकाम-बुखार और गले में खरास के मामले तेजी से बढ़ते नजर आ रहे हैं. डॉक्टरों का कहना है कि ऐसा कुछ भी होने पर डॉक्टर के पास जाएं और उनके मार्गदर्शन व सलाह पर कोरोना जांच करवाएं क्योंकि अधिक समय तक सर्दी-बुखार आदि से कोविड पॉजिटिव आने का खतरा बढ़ गया है. जिले में अब तक 1,01,889 संक्रमित ठीक हो चुके हैं.