Nagpur Corona Update

  • नहीं थम रहा मौत का आंकड़ा
  • 16,630 एक्टिव केस
  • 4,559 अस्पताल में भर्ती
  • 12,071 होम क्वारंटाइन

नागपुर. कोरोना से मौतों का सिलसिला थम नहीं रहा है. संडे को भी 12 संक्रमित कोरोना के शिकार हो गये. जिन्हें मिलाकर अब जिले में मरने वालों की संख्या 4,459 हो गई हैं. सिटी में संडे को 7 की कोरोना से मौत हो गई, वहीं ग्रामीण भागों के 3 भी काल के गाल में समा गए. अब तक सिटी में 2,867 की मौत कोरोना महामारी से हो चुकी है वहीं, ग्रामीण भागों में 795 इसकी बलि चढ़ चुके हैं.

कोरोना की दूसरी लहर का प्रकोप भी दिनोदिन बढ़ता ही जा रहा है. रोजाना पॉजिटिव की संख्या भी बढ़ती ही जा रही है. संडे को फिर 2,252 नये संक्रमति पाये गए हैं जिन्हें मिलाकर अब कुल पॉजिटिव मरीजों की संख्या 1.70 लाख से अधिक हो चुकी है. संडे को जो पॉजिटिव आए हैं उनमें 1,872 सिटी के हैं और 378 ग्रामीण भागों के हालात को खतरनाक होते देख अब प्रशासन ने पुलिस आयुक्तालय के तहत आने वाले सभी क्षेत्रों में सोमवार से कड़ा लॉकडाउन लगा दिया है. कोरोना की चेन को ब्रेक करने के लिए उठाये गए इस कदम में नागरिकों से सहयोग की अपील की गई है.

तो अस्पतालों में नहीं मिलेगी जगह

जिस तेजी से कोरोना के संक्रमितों की संख्या में इजाफा होता जा रहा है उससे कोरोना के पहले लहर के पीक समय का खतरा दोबारा महसूस हो रहा है. उस दौरान सिटी ही नहीं, बल्कि जिले के अस्पतालों में मरीजों के लिए बेड नहीं मिल पा रहे थे. अगर दूसरी लहर में भी एक्टिव केस की संख्या 16,630 पर पहुंच चुकी हैं. इसमें 13,705 सिटी के हैं और 2,925 ग्रामीण भागों के हैं. इनमें 4,559 विविध अस्पतालों में भर्ती हो चुके हैं और इनकी संख्या रोज ही बढ़ती जा रही है. उस पर भी 12,071 को होम क्वारंटाइन किया गया है. इनकी संख्या भी तेजी से बढ़ रही है. हालत यह है कि अब सिटी के अमूमन सभी बस्ती में होम क्वारंटाइन कोरोना पॉजिटिव हैं. कई इलाकों में ये बिंदास घूम रहे हैं जिसके चलते ही कोरोना ब्लास्ट होने की बात की जा रही है. 

रिकवरी रेट और नीचे

हालात गंभीर होने के साथ ही रिकवरी रेट भी तेजी से गिरता जा रहा है. संडे को जहां 2,252 नये पॉजिटिव पाये गए वहीं 1,033 मरीज स्वस्थ होकर अपने घरों को लौटे. अब तक स्वस्थ होने वालों की संख्या 1.49 लाख से अधिक हो चुकी है. बावजूद इसके रिकवरी रेट डाउन होता जा रहा है. संडे को रिकवरी रेट यानी स्वस्थ होने वालों का प्रतिशत 87.60 प्रतिशत पर आ गया. यह बीते महीने काफी उत्साहजनक स्थिति में करीब 96 प्रतिशत के आसपास रहा करता था. 

मेन्टल हॉस्पिटल में पॉजिटिव केस

मेन्टल हॉस्पिटल में बीते 3 दिनों में 2 महिला मरीजों के कोरोना पॉजिटिव आने की जानकारी मिली है. बीते सप्ताह भी यहां के 3 कर्मियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. अब यहां मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने से यह आशंका है कि कहीं इन कर्मचारियों के कारण ही तो मरीज संक्रमित नहीं हुए है. अगर ऐसा रहा तो मेन्टल हॉस्पिटल भी कोरोना का हॉटस्पॉट बनने का खतरा है.