Cutting the cake with the sword became a trend, a new fad to show brotherhood

नागपुर. तलवार से केक काटना इन दिनों ट्रेंड बन गया है. अपराधी अपनी भाईगिरी दिखाने के लिए बाकायदा जानलेवा हथियारों से केक काटते है. केक काटने के वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल किए जाते है. अपने प्रतिद्वंदियों को यह संदेश देना चाहते है कि उनके पीछे कितने लोगों की फौज है और अपराध क्षेत्र में उनका भी नाम है. इस तरह के आयोजन कर केक काटने वालों की धरपकड़ पुलिस कर रही है. अब तक 3 से 4 लोग पकड़े जा चुके है बावजूद इसके आसामाजिकतत्वों में भय नहीं है. पुलिस की कार्रवाई के बावजूद बेखौफ अपराधी हथियारों के साथ अपना शक्ती प्रदर्शन कर रहे है.

15 जून को क्राइम ब्रांच के यूनिट 2 ने तलवार से केक काटने का वीडियो वायरल करने वाले संकेत कांबले को गिरफ्तार किया. इसके बाद क्राइम ब्रांच के यूनिट 4 ने अजय निंबालकर को गिरफ्तार किया. अजनी पुलिस ने अमन वकील उफाड़े (27) को पकड़ा है. तीनों ने ही तलवार से केक काटकर अपना जन्मदिन मनाया था.

अब कामठी का एक वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है. रिंकू और बंटू नामक जुड़वा भाइयों ने शनिवार को अपना जन्मदिन मनाया. बड़ी संख्या में दोनों के समर्थक जमा हुए थे. तलवार और बड़े चाकू से दोनों ने केक काटा. हाथ में तलवार लहराते हुए नारे लगाए. जानकारी मिली है कि बंटू नशीले पदार्थों की तस्करी करता है. करीब 1 महीने पहले उत्तर नागपुर में 10 किलो गांजा पकड़ा गया था. यह गांजा बंटू का होने की जानकारी पुलिस को मिली. बाद में बंटू से सेटिंग करके मामला रफादफा कर दिया गया. 

‘कोर्ट हमारी सासुरवाड़ी फिर काहे का डर’
इन दिनों अपराधी टिकटॉक से अपना प्रचार-प्रसार करने में जुटे हुए है. हिंदी फिल्मों के माया डोलस, मान्या सुर्वे और अन्य अपराधियों के डायलॉग पर वीडियो बनाकर वायरल कर रहे है. पिछले दिनों कालू गौर ने अपने साथियों के साथ वीडियो बनाया. इसमें शहर के सभी भाई लोगों और अपराधियों को संबोधित करते हुए गाना गाया ‘आना जाना जेल खाना, जेल हमारा घर, कोर्ट हमारी सासुरवाड़ी फिर काहे का डर’. कालू का यह वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. इससे साफ दिखाई पड़ता है कि अपराधी कानून से खेल रहे है. उनमें कानून का डर नहीं बचा है.