Complaint to CM, MLA Thackeray demands action

  • ठाकरे ने मुख्य अभियंता से की मांग

नागपुर. विधायक विकास ठाकरे ने महावितरण के मुख्य अभियंता दिलीप दोडके व अन्य अधिकारियों से कहा है कि लोगों को तीन महीने का एक साथ जो हजारों का बिजली बिल भेजा गया है उसे नागरिक एक साथ चुकाने में असमर्थ हैं. इसलिए अगर किसी ने बिल नहीं जमा किया तो उसके बिजली कनेक्शन काटने की कार्रवाई नहीं की जानी चाहिए. महावितरण के मुख्य अभियंता दोडके अन्य अधिकारियों के साथ ठाकरे से भेंट कर बिजली बिल के संदर्भ में विस्तार से जानकारी देने पहुंचे थे.

महावितरण के अधिकारी सभी विधायकों, मंत्रियों, सांसदों से मुलाकात कर जून के बिल के संदर्भ में जानकारी दे रहे हैं ताकि कोई संभ्रम ना रहे. ठाकरे ने इसी दौरान उन्हें कहा कि अनेक गरीबों, मध्यम वर्ग परिवार के आय के स्रोत 3 महीने से बंद हो गए थे. उस पर उन्हें हजारों का बिल थमाया गया है जिसे वे फिलहाल नहीं चुका सकते. इसलिए इस बिल को 6 किश्तों में चुकाने की सुविधा देनी चाहिए. दोडके ने इस पर सकारात्म निर्णय लेने का आश्वासन दिया.

महावितरण की गलती
ठाकरे ने अधिकारियों को कहा कि जब महावितरण लाकडाउन के दौरान बिजली आपूर्ति को अखंडित रखने के लिए अपने कर्मचारियों की टीम के साथ सेवा में लगी हुई थी तो फिर बिल भी हर महीने का भिजवा देना था. यह महावितरण की गलती है कि उसने हर महीने बिल नहीं भेजा. उन्होंने कहा कि स्लम बस्तियों में गरीब परिवारों को तीन महीने का जो बिल दिया गया है उसे जमा करने के लिए उनके पास पैसे नहीं हैं. ऐसी बस्तियों में शिविर लेकर उन्हें बिल के संदर्भ में सभी जानकारी दें व शंका का समाधान भी करें. 

ऊर्जामंत्री कदम उठाएं
स्लम में रहने वाले मजूदर, गरीब परिवारों को हजारो का बिल दिया गया है. वे तीन महीनों से बेरोजगार हैं. रोजंदारी का काम कर किसी तरह परिवार का पेट पालते हैं. ऐसे गरीब लोगों का तीन महीने का बिल माफ करने के संदर्भ में या फिर बिल कम करने, अन्य प्रभार व शुल्क माफ करने का कदम ऊर्जामंत्री को उठाया चाहिए ताकि गरीबों को राहत मिल सके.